पाक समर्थित खालिस्तान आंदोलन अमेरिका में हो रहा मजबूत, सरकार उदासीन

khalistan movement in usa

वाशिंगटन। अमेरिका के टॉप थिंक टैंक ने कहा है कि पाकिस्तान समर्थित अलगाववादी खालिस्तानी समूह अमेरिका में धीरे-धीरे अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है।

उसने यह भी कहा कि अमेरिकी बाइडेन सरकार इन संगठनों की भारत विरोधी गतिविधियों को रोकने के लिए नई दिल्ली द्वारा की गई अपीलों के प्रति उदासीन रही है।

‘हडसन इंस्टीट्यूट ने मंगलवार को प्रकाशित अपनी रिपोर्ट ‘पाकिस्तान का अस्थिरता का षड्यंत्र : अमेरिका में खालिस्तान की सक्रियता में’ पाकिस्तान द्वारा इन संगठनों को दिए जा रहे समर्थन की जांच करने के लिए ‘अमेरिका के भीतर खालिस्तान और कश्मीर अलगाववादी समूहों’ के आचरण को आंका है।

रिपोर्ट में इन समूहों के भारत में उग्रवादी और आतंकवादी संगठनों के साथ संबंधों और दक्षिण एशिया में अमेरिकी विदेश नीति पर उनकी गतिविधियों के संभावित हानिकारक प्रभावों पर गौर किया गया है।

रिपोर्ट बताती है कि पाकिस्तान स्थित इस्लामी आतंकवादी संगठनों की तरह, खालिस्तानी संगठन नए नामों के साथ सामने आ सकते हैं।

इसमें कहा गया, ‘दुर्भाग्य से, अमेरिकी सरकार ने खालिस्तानियों द्वारा की गई हिंसा में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई है, जबकि खालिस्तान अभियान के सबसे कट्टर समर्थक ब्रिटेन, कनाडा और अमेरिका जैसे पश्चिमी देशों में हैं।’

रिपोर्ट में कहा गया कि जब तक अमेरिकी सरकार खालिस्तान से संबंधित उग्रवाद और आतंकवाद की निगरानी को प्राथमिकता नहीं देती, तब तक उन समूहों की पहचान होने की संभावना नहीं है जो वर्तमान में भारत में पंजाब में हिंसा में लिप्त हैं या ऐसा करने की तैयारी कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button