कृषि कानूनों पर विपक्ष को मुंहतोड़ जवाब दिया एमएलसी अरविंद शर्मा ने, देखें वीडियो

लखनऊ। उप्र विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है। तमाम मुद्दों के बीच इस समय के सबसे ज्वलंत मुद्दे केन्द्रीय कृषि कानूनों को लेकर विधानसभा के दोनों सदनों में सत्ता पक्ष व विपक्ष के बीच गर्मागर्म बहस हुई।

विपक्षी सदस्यों ने जहां एक तरफ इस कानून को किसानों के साथ धोखा बताते हुए इसे वापस लेने की मांग की वहीँ सत्ताधारी दल भाजपा के सदस्यों ने इसे किसानों के लिए बहुत लाभदायक बताया। सदन में हुई चर्चा के दौरान कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने जवाब दिया।

उच्च सदन विधान परिषद् में अरविंद कुमार शर्मा

उच्च सदन विधान परिषद् में भाजपा के नव-निर्वाचित सदस्य व पूर्व वरिष्ठ आइएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा ने सदन में पहली बार दिए अपने वक्तव्य में विपक्षी दलों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जिस एमएसपी व एपीएमसी को ख़तम करने की बात कही जा रही है, इन कानूनों में उनका कहीं उल्लेख ही नहीं है।  

भारी शोरगुल व हंगामे के बीच कानूनों की कॉपी को सदन में दिखाते हुए अरविंद कुमार शर्मा ने कहा कि जब हमसे भी बड़ी व इस देश के सबसे उच्च सदन लोकसभा व राज्यसभा ने घंटों बहस करने के बाद इस कानून को पारित किया है तो क्या हमें उनके ऊपर भी विश्वास नहीं है?

अरविंद कुमार शर्मा ने कहा मैं स्वयं किसान हूँ और खेती करता हूँ. अभी अपने गाँव किसानों के बीच होकर आया हूँ, जो यह बात कही जा रही है कि किसानों की स्थिति पिछले जून या सितंबर में जबसे यह कानून पास हुआ है तभी से खराब हो गई तो क्या किसानों की स्थिति पहले बहुत अच्छी थी? पिछले 60 सालों से किसानों की क्या स्थिति थी?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button