मऊ के लाल, जन नेता एमएलसी अरविन्द शर्मा का बेहद आभारी है गोंड समाज: किशनलाल गोंड

एमएलसी ए.के.शर्मा गोंड समाज के पदाधिकारियों के साथ

लखनऊ/मऊ। उप्र के मऊ जनपद में गोंड धुरिया समाज को अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र जारी करने का आदेश जिलाधिकारी ने जनपद के सभी तहसीलदारों को कर दिया है।

इसके लिए हमारे क्षेत्र के निवासी व जन नेता विधान परिषद सदस्य एवं पूर्व वरिष्ठ आईएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा बधाई के पात्र हैं। मैं उनको सैल्यूट करता हूँ।

यह कहना है अखिल भारतवर्षीय गोंड महासभा के मऊ के जिलाध्यक्ष रिटायर्ड फौजी किशनलाल गोंड का। किशनलाल गोंड मऊ जनपद में गोंड समाज को जाति प्रमाण पत्र जारी करने के लिए डीएम द्वारा आदेश किए जाने पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे।

रिटायर्ड फौजी किशनलाल गोंड

किशनलाल गोंड ने बताया कि भारत सरकार द्वारा 2002-03 में ही उत्तर प्रदेश के 13 जनपदों (मऊ, आजमगढ़, वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर, मिर्ज़ापुर, सोनभद्र, गोरखपुर, बस्ती, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, बलिया व कुशीनगर) के लिए गोंड समाज को अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र जारी करने का शासनादेश कर दिया गया था परंतु प्रशासनिक हीला हवाली के चलते यह काम नहीं हो पा रहा था।

उन्होंने यह भी बताया कि 23 अक्टूबर 2020 को उप्र के प्रमुख सचिव समाज कल्याण ने भी प्रमाण पत्र जारी करने के लिए शासनादेश कर दिया था परंतु किन्हीं कारणवश यह कार्य नहीं हो पा रहा था।

किशनलाल गोंड ने कहा विधान परिषद सदस्य व मऊ जनपद के लाल अरविंद कुमार शर्मा जो कि स्वयं एक आईएएस अधिकारी रह चुके हैं, ने हमारे समाज की पीड़ा को समझा और मऊ के जिलाधिकारी से बात करके प्रमाण पत्र जारी करने का लेटर लिखवा दिया। हमारे समाज के सभी लोग अरविंद कुमार शर्मा जी के अति आभारी हैं एवं उन्हें हृदय से धन्यवाद ज्ञापित करते हैं।

किशनलाल गोंड ने यह भी बताया कि  हम लोगों ने मऊ जनपद के अधिकारियों को 6 मार्च तक का समय दिया है। 7 मार्च को हम लोग समाज की एक बैठक करेंगे और 8 मार्च से जनपद की सभी चारों तहसीलों मोहम्मदाबाद, सदर, घोसी और मधुबन में भ्रमण करेंगे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि तहसीलदार समाज का अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र बना रहे है या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button