उप्र: सीएम का आदेश, प्रतिदिन एक लाख आरटीपीसीआर जांच की व्यवस्था की जाए

लखनऊ। उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए बेहतर कोविड प्रबंधन पर जोर देते हुए कहा है कि हमारे पास बेहतर संसाधन और अनुभव हैं इसका प्रभावी उपयोग किया जाना चाहिए।

सभी जिलों में इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर स्थापित हैं। इनकी कोविड-19 के विरुद्ध संघर्ष में केंद्रीय भूमिका है। इसलिए इसका बेहतर और प्रभावी उपयोग किया जाए।

रोजाना कोविड-19 के कम से कम एक लाख आरटीपीसीआर जांच सुनिश्चित की जाए। इसके लिए चिकित्सा शिक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग प्रभावी प्रयास करें।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को लोक भवन में उच्चस्तरीय बैठक में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा के दौरान कहा कि इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का सर्विलांस,

एंबुलेंस की उपलब्धता, होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से संवाद आदि में प्रभावी प्रयोग किया जाए।

लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर नगर, वाराणसी में संचालित इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर से टेलीमेडिसिन की सुविधा उपलब्ध कराई जाए।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार कोविड-19 से संक्रमित मरीजों को समुचित उपचार उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।

कानपुर नगर में कोविड-19 संक्रमित मरीजों को बेड की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए उन्होंने रामा मेडिकल कॉलेज को डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में बदलने के निर्देश दिए।

प्रदेश में कोविड-19 का उपचार करने के इच्छुक निजी अस्पतालों को इसकी अनुमति देने पर विचार किया जाए।

उन्होंने जांच में वृद्धि करने के निर्देश देते हुए कहा कि निजी चिकित्सा संस्थानों द्वारा कोविड-19 की जांच निर्धारित दर पर ही की जाए।

निजी अस्पतालों व लैब्स में निर्धारित दर की सूची लगवाई जाए।

नगर विकास विभाग व ग्राम्य विकास विभाग पूरे प्रदेश में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग की व्यवस्था कराएं।

सभी नगर निकाया कोविड-19 से बचाव के प्रति जागरूकता के प्रसार के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम का इस्तेमाल करें।

मुख्यमंत्री ने महात्मा ज्योतिबा फुले की जयंती 11 अप्रैल और डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती 14 अप्रैल तक पूरे प्रदेश में आयोजित किए जा रहे ‘विशेष टीका उत्सव’ के दौरान सभी जिलों में वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

वैक्सीन की वेस्टेज को एक प्रतिशत तक सीमित रखा जाए। बैठक में अवगत कराया गया कि ‘विशेष टीका उत्सव’ के लिए सभी जिलों में वैक्सीन उपलब्ध करा दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button