Budget 2022: मिडिल क्लास मायूस,आयकर में कोई छूट नहीं

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज संसद में बजट पेश किया। इस बार के बजट से मिडिल क्लास को मायूसी हुई है। दरअसल, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इनकम टैक्स स्लैब पर कोई नई घोषणा नहीं की।

इस वजह से इस बार भी आयकर में कोई छूट नहीं मिली है। वहीं कॉरपोरेट को राहत दी गई है। कॉरपोरेट सरचार्ज 12% से घटाकर 7% किया गया है।

वित्त मंत्री ने रोजगार, मकान और शिक्षा आदि के संबंध में कई बड़ी घोषणाएं की लेकिन इस बार फिर आयकर में कोई छूट नहीं दी गई। वित्त मंत्री ने इस बजट में युवाओं के लिए 60 लाख नौकरियां अवसर तैयार करने का वादा किया।

सौर क्षमता के लिए 19,500 करोड़ रूपये का अतिरिक्त आवंटन

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि 2030 तक सौर क्षमता के 280 गीगावाट के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए 19,500 करोड़ रूपये का अतिरिक्त आवंटन किया जाएगा।

NPS में 14 फीसदी अंश अब कर कटौती के दायरे में

केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना में 14 फीसदी का अंश देती है। हालांकि, राज्य सरकार के कर्मचारी के वेतन का अधिकतम 10 फीसदी हिस्सा ही पेंशन खाते में जाता है।

इस भेदभाव को खत्म करने के लिए राज्य सरकार के कर्मचारियों का भी NPS में 14 फीसदी अंश अब कर कटौती के दायरे में आएगा।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि रिकॉर्ड 1,40,986 करोड़ रुपए का जीएसटी संग्रह जनवरी में मिला। यह जीएसटी शुरू होने से लेकर अब तक का सबसे ज्यादा जीएसटी संग्रह है।

टैक्स के दायरे में आएंगी क्रिप्टोकरेंसी

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि क्रिप्टोकरेंसी अब टैक्स के दायरे में आएंगी। क्रिप्टोकरेंसी से हुई आमदनी पर 30 फीसदी का टैक्स देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button