कभी माफ़ नहीं करूंगा विश्वासघाती बेंजामिन नेतन्याहू को: डोनाल्ड ट्रंप

डोनाल्ड ट्रंप (फाइल)

वाशिंगटन। देश की सत्ता से बाहर होने के बाद से अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार किसी न किसी को निशाना बना रहे हैं। इस बार उन्होंने पूर्व इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के लिए सख्त शब्दों का इस्तेमाल किया है।

लेखक बराक रविद की किताब में खुलासा हुआ है कि नेतन्याहू ने बाइडन को जिस अंदाज में बधाई दी थी वह ट्रंप को पसंद नहीं आया। ट्रंप ने नेतन्याहू के इस कदम को विश्वासघाती बता दिया है।

ट्रंप ने कहा कि मैंने नेतन्याहू के लिए इतना कुछ किया लेकिन उसने मुझे धोखा दिया। उसने मेरे साथ विश्वासघात किया है। ट्रंप ने कहा कि जब से नेतन्याहू ने राष्ट्रपति बाइडन को बधाई दी है मैंने उससे बात करना छोड़ दिया है।

पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप ने आगे कहा कि मुझसे ज्यादा किसी ने भी नेतन्याहू के लिए काम नहीं किया। मैंने इस्राइल की बहुत सेवा की। उन्होंने कहा मैं ही था जिसने सेंचुरी डील करवाई। यह कोई छोटा-मोटा काम नहीं था बल्कि बहुत बड़ा काम था जो मैंने इस्राइल के लिए किया।

ट्रंप ने कहा कि यह काम मैंने चुनाव से पहले किया और इसके अलावा मैंने कई जगह नेतन्याहू की मदद की। ट्रंप का कहना था कि जिस नेतन्याहू की मैंने इतनी सेवा की यह वही आदमी है जो दौड़ता हुआ बाइडन को मुबारकबाद देने पहुंचा था।

ट्रंप ने कहा कि मैंने नेतन्याहू की मदद करके बहुत बुरा किया। इसके बाद से मैंने उससे बात करनी छोड़ दी है। नेतन्याहू को मैं कभी भी माफ नहीं करूंगा। लानत भेजता हूं इस विश्वासघाती नेतन्याहू को। ट्रंप ने यह भी कहा कि अगर मैं राष्ट्रपति नहीं बनता तो इस्राइल का काम तमाम हो जाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button