GAZA: हमास के सबसे बड़े सुरंग का खुलासा, इज़राइल का दावा भूमिगत मार्ग एक बड़े नेटवर्क का हिस्सा

इज़रायली सेना का दावा गाजा पट्टी में अब तक की सबसे बड़ी हमास सुरंग का पता लगाया है. सुरंगों को हमास का सबसे बड़ा किला कहा जाता है. सेना ने एक बयान में कहा कि यह भूमिगत मार्ग एक बड़े नेटवर्क का हिस्सा है.

इमेज क्रेडिट : सोशल मीडिया

गाजा के अंदर हमास ने सुरंगों का जाल बिछा रखा है. ऐसी ही एक सुरंग का खुलासा करते हुए इजरायल ने हैरान करने वाला वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक कार टनल के अंदर चल रही है, जिसमें दो लोग सवार हैं. इसे शेयर कर इजरायल ने कहा है कि वीडियो हमास लीडर याह्या सिनवार के भाई मोहम्मदका है. वह कार में बैठकर गाजा में इरेज क्रॉसिंग के पास सुरंग के जरिए ट्रैवल कर रहे हैं.

सूत्र : सोशल मीडिया

इजराइली सेना के प्रवक्ता मेजर निर दीनार ने कहा कि सुरक्षा बलों को सात अक्टूबर से पहले सुरंग के बारे में पता नहीं था क्योंकि आईडीएफ ने केवल इजराइल में प्रवेश करने वाली सुरंगों का ही पता लगाया था. वहीं सुरंग का दौरा करने वाले दीनार ने कहा कि यह गाजा में मिली अन्य सुरंगों की तुलना में दोगुनी ऊंची और तीन गुना ज्यादा चौड़ी है.

सूत्र : सोशल मीडिया

यह सुरंग किसी जमाने में इजराइल में प्रवेश के लिए व्यस्त जगहों में से एक मानी जाती थी. सुरंग के मिलने से इजराइली खुफिया एजेंसियों की कार्यशैली पर सवाल उठ रहा है कि सात अक्टूबर को घातक हमले के लिए हमास की इस तरह की विशिष्ट तैयारियों पर उनसे चूक कैसे हुई. सुरंग का प्रवेश मार्ग किलेबंद इरेज क्रॉसिंग और पास के इजराइली सैन्य अड्डे से केवल कुछ 100 मीटर की दूरी पर है.

हमास कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी
इसी बीच आईडीएफ ने यह भी कहा कि इजरायल खुफिया एजेंसी शिन बेत के साथ उनके द्वारा किए गए संयुक्त छापे में उत्तरी गाजा अस्पताल से हथियार जब्त किए गए हैं और 90 हमास कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. आईडीएफ ने रविवार को एक बयान में कहा कि पिछले कुछ दिनों में इजरायली बलों ने उत्तरी गाजा के कमल अदवान अस्पताल में लगभग 90 आतंकवादी गुर्गों को हिरासत में लिया था और कई हथियार जब्त किए थे. 460वीं बख्तरबंद ब्रिगेड और नौसेना की शायेटेट 13 कमांडो यूनिट के सैनिकों ने अस्पताल पर छापा मारा. इसमें कहा गया है कि हमास के गुर्गों के हथियार, जिनमें असॉल्ट राइफलें, आरपीजी, विस्फोटक उपकरण और सैन्य उपकरण शामिल हैं, जब्त कर लिए गए.

गाजा शहर के पड़ोसी ठिकानों पर छापेमारी
वहीं बयान में यह भी कहा गया है कि शिन बेत और सैन्य खुफिया निदेशालय की यूनिट 504 ने अस्पताल के कर्मचारियों से पूछताछ की, जिन्होंने स्वीकार किया कि प्रसूति वार्ड में इनक्यूबेटरों के अंदर हथियार छिपे हुए थे. आईडीएफ ने कहा कि ब्रिगेड के सैनिकों ने घरों, स्कूलों और अन्य नागरिक स्थलों में छिपे हुए कई हथियार भी जब्त किए हैं और कहा कि उसके सैनिकों ने गाजा शहर के रिमल पड़ोस में दो स्कूलों पर छापा मारा, जहां हमास के कार्यकर्ता छिपे हुए थे. आईडीएफ ने कहा कि सैनिकों ने क्षेत्र में हमास के कई बंदूकधारियों से लड़ाई की और उन्हें मार डाला और स्कूल के अंदर कुछ ने सैनिकों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है.

Back to top button