झूठ की बिसात बिछाने के माहिर अखिलेश का दोहरा चरित्र तो जगजाहिर है: सुरेश खन्ना

suresh khanna minister

लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव की ओर से जारी बयान का जवाब देते हुए प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि गरीबों के आरक्षण का पुरजोर विरोध करने वाली समाजवादी पार्टी के दोहरे चरित्र से दुनिया वाकिफ है।

उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने बिना भेदभाव के कोरोना काल में समाज के हर वर्गों के लिये काम किया है चाहे वह दलित हो, पिछड़ा हो या फिर सवर्ण हो।

बिना जाने समझे कुछ भी बोलने वाले अखिलेश को योगी सरकार की उपलब्धियां बर्दाशत नहीं हो रही हैं। विपक्ष तिलमिलाया हुआ है इसलिये लगातार उनके नेता झूठे और बेबुनियाद बयान देने से बाज नहीं आ रहे हैं।

योगी सरकार ने अपनी दृढ इच्छा शक्ति का परिचय देते हुए नौकरी में गरीब-सवर्णों को आरक्षण देने का ऐलान किया और उसे पूरा भी करके दिखाया।

उन्होंने कहा है कि विपक्ष को उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के काम नजर नहीं आ रहे हैं। कोई मुददा मिल नहीं रहा है तो जनता में बढ़ते जनआक्रोश की झूठी बुनियाद गढ़ने में लग गये हैं।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव के बयान का जवाब देते हुए सुरेश खन्ना ने कहा है कि यूपी में बेहतरीन कोरोना प्रबंधन में रिकार्ड बनाने वाली योगी सरकार अब गन्‍ना खरीद में नया कीर्तिमान रचने जा रही है।

किसानों की विरोधी रही समाजवादी पार्टी की सरकार में जो काम नहीं हुए उसे योगी सरकार ने करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सोमवार को 11 लाख 83 हजार से अधिक किसानों से 52.66 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की जा चुकी है।

किसानों को 10401.54 करोड़ रुपए का भुगतान भी कर दिया गया है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों को राहत देते हुए गेहूं खरीद की तिथि बढ़ा कर 20 जून कर दी है। उन्होंने कहा कि अब तक सरकार कुल रुपये 136,278.75 करोड़ गन्ना मूल्य भुगतान भी कराया जा चका है।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेताओं को सरकार की उपलब्धियां चुभ रही हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित करने में योगी सरकार का कोविड प्रबंधन बहुत कारगर साबित हुआ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कोरोना काल में जीवन और जीविका की मुहिम ने दुनिया में प्रशंसा पाई है।

देश में उत्तर प्रदेश पहला राज्य है, जिसने सूबे में आंशिक कोरोना कर्फ्यू लागू किया जबकि अन्य प्रदेशों में पूर्णत: लॉकडाउन लगाया गया। आंशिक कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी श्रमिकों को सहूलियत प्रदान की गई।

जनता को भरपेट भोजन देने के साथ ही सरकार ने कोरोना काल में हर रोज औसतन 50 से 60 हजार लोगों को रोजगार देने का भी बड़ा काम किया। जनता में सरकार के प्रति बढ़ता विश्वास ने समाजवादी पार्टी की नींव हिला दी है।

यही कारण है कि दिन-रात बिना रुके योगी सरकार की ओर से किये जा रहे कार्य से पूरा विपक्ष सहम गया है। उनके पास कोई मुद्दा नहीं बचा तो उल्टे-सीधे मनगढ़ंत आरोप लगाए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button