Budget 2022: MSME के लिए कई ऐलान, आर्थिक विकास दर 9.2% का अनुमान

MSME in India

नई दिल्ली। लोकसभा में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा लगातार दूसरी बार पेश पेपरलेस आम बजट में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम यानी MSME के लिए कई अहम ऐलान किए गए हैं। इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी स्कीम (ECLGS) के तहत एमएसएमई को 130 लाख करोड़से अधिक लोन दिए गए हैं।

ईसीएलजीएस के दायरे को 50 हजार करोड़ रुपए से बढ़ाकर 5 लाख करोड़ रुपए तक कर दिया गया है। इससे 2 लाख करोड़ रुपए का अतिरिक्त लोन MSME को मिल सकेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि उद्यम, ई-श्रम, एनसीएस और असीम पोर्टल्स को लिंक किया जाएगा। इससे एमएसएमई का दायरा बढ़ जाएगा।

आपातकालीन क्रेडिट लाइन गारंटी (ECLGS), जिसने एमएसएमई को अतिरिक्त ऋण प्रदान किया है, को मार्च 2023 तक बढ़ा दिया गया है। वहीं, अतिरिक्त कर्ज खासतौर से हॉस्पिटैलिटी सेक्टर को दिया जाएगा।

अपने बजट भाषण में वित्तमंत्री ने कहा कि देश की आर्थिक विकास दर 9.2 फीसदी रहने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि यह बजट अगले 25 सालों के लिए ब्लू प्रिंट के तौर पर काम करने वाला है।

इसके अलावा उन्होंने इस बजट के जरिए 60 लाख नौकरियां भी पैदा होने की बात कही। वित्त मंत्री ने कहा कि एलआईसी के आईपीओ पर काम चल रहा है और आने वाले दिनों में कुछ और चीजों का विनिवेश किया जाएगा।

वित्त मंत्री ने कहा कि डिजिटल करेंसी को चालू करने पर विचार किया गया है। इसलिए साल 2022-23 में आरबीआई डिजिटल करेंसी लॉन्च करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button