‘काशी मॉडल’ के जरिए कोरोना की तीसरी लहर के खिलाफ जंग की एमएलसी ए.के. शर्मा ने की तैयारी

एमएलसी ए.के. शर्मा

वाराणसी। कोरोना महामारी की तीसरी लहर से बचाव की तैयारी अभी से ही शुरू हो गई है, विभिन्न सरकारों के साथ-साथ अन्य लोग व संगठन कोरोना के खिलाफ इस सम्भावित जंग के लिए कमर कस रहे हैं।

इसी क्रम में प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी सहित समूचे पूर्वांचल में कोविड नियंत्रण की जिम्मेदारी संभाल रहे भाजपा एमएलसी व पूर्व वरिष्ठ आइएएस अधिकारी ए.के. शर्मा सक्रियता से काम कर रहे हैं।

अपने 30 वर्षों के प्रशासनिक अनुभव का पूरा उपयोग करते हुए ए.के. शर्मा गांव-गांव लोगों को जागरूक कर रहे हैं। कोरोना की तीसरी लहर के लिए ए.के. शर्मा माताओं और बच्चों को ज्यादा जागरूक कर रहे हैं। माताओं और बच्चों के लिए ए.के. शर्मा द्वारा अलग से व्यवस्था बनाई जा रही है जिसके सुखद परिणाम कुछ ही दिनों में सामने आएंगे।  

इस सब के बीच न तो वह किसी प्रोटोकॉल की चिंता करते हैं और न ही किसी दिखावे की जरूरत समझते हैं। बस ‘काम है तो करना है’ इस मूलमंत्र को अपनाते हुए ए.के. शर्मा लगातार सक्रिय है।

गौरतलब है कि एमएलसी ए.के. शर्मा ने प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में जिस तरह से काशी कोविड रेस्पांस सेंटर (KCRC) बनाकर कोविड को नियंत्रित किया उसकी चर्चा अनेक जगहों पर हुई। प्रधानमंत्री मोदी ने स्वयं इस ‘काशी मॉडल’ की तारीफ की। साथ ही तमाम स्थानों पर ‘काशी मॉडल’ अपनाकर कोविड को नियंत्रित किया गया।    

इसके अलावा ए.के. शर्मा के माध्यम से जरूरतमंदों तक दवा किट, भाप लेने की मशीन, ऑक्सीमीटर व अन्य जरूरी सामग्री निःशुल्क अनवरत पहुँच रही है।  

  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button