उप्र में AAP सरकार बनी तो 300 यूनिट बिजली मुफ्त: मनीष सिसोदिया

aap in up

लखनऊ। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार यदि उप्र में बनती है तो सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 300 यूनिट बिजली मुफ्त और 38 लाख परिवारों का बकाया बिजली का बिल माफ किया जाएगा।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज गुरुवार को लखनऊ में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उत्तर प्रदेश में सत्ता में आने पर आम आदमी पार्टी की सरकार राज्य के सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली देगी। इसके अलावा सरकार छोटी-बड़ी सभी तरह की जोत वाले किसानों को मुफ्त बिजली उपलब्ध कराएगी।

मनीष सिसोदिया ने यह भी ऐलान किया कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने पर बिजली के मनमाने बिल से परेशान प्रदेश के 38 लाख परिवारों के बिल माफ कर दिए जाएंगे और राज्य में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जाएगी।

उन्होंने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में सरकार ने बिजली इतनी महंगी कर दी है कि बिजली का बिल भरना बहुत मुश्किल हो रहा है।’सरकार कहती है कि या तो बिजली का बिल भरो नहीं तो उन्हें अपराधी माना जाएगा।

उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में सैकड़ों ऐसे मामले हैं जहां आम आदमी ने बिजली के महंगे बिल देखकर आत्महत्या कर ली है। अलीगढ़ में रामजी लाल नामक किसान ने बिजली का बिल नहीं भर पाने की वजह से आत्महत्या कर ली।

एटा में 17 साल की लड़की ने सिर्फ इसलिए आत्महत्या कर ली कि बिजली विभाग ने उसके पिता के नाम गलत बिल भेज दिया था जिसे न चुका पाने के कारण उसे अपराधी करार दे दिया गया था।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि पूरे उप्र में 38 लाख परिवार ऐसे हैं जिनके घरों में सरकार ने महंगे बिजली के बिल भेज रखे हैं और सरकार उन्हें अपराधी मान रही है।

मैं उन लोगों को कहना चाहता हूं कि आप आम आदमी पार्टी का समर्थन करिए और विधानसभा चुनाव में हमारी सरकार बनवाइए। सरकार बनते ही उन बिलों को फाड़ कर फेंक दीजिएगा। सबका बकाया बिल माफ कर दिया जाएगा। यह अरविंद केजरीवाल की गारंटी है।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री ने कहा कि बिजली आज विलासिता नहीं बल्कि मूलभूत आवश्यकता है जिसे हर नागरिक को उपलब्ध कराना हर सरकार की जिम्मेदारी है। आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य और

उप्र प्रभारी संजय सिंह ने इस मौके पर कहा कि केजरीवाल जो कहते हैं वह कर के दिखाते हैं। 300 यूनिट मुफ्त बिजली देने समेत जो भी घोषणाएं की गई हैं वे ऐतिहासिक हैं।

आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में पूछे जाने पर सिसोदिया ने कहा कि जब समय आएगा, तब पार्टी इस बारे में निर्णय लेकर बताएगी। उन्होंने कहा कि पार्टी अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में ही चुनाव लड़ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button