पाकिस्तान: इमरान के करीबी मौलवियों ने 60 हिंदुओं को जबरन क़ुबूल करवाया इस्लाम, देखें वीडियो

पाकिस्तान में 60 हिंदुओं को जबरन क़ुबूलवाया इस्लाम

सिंध। पाकिस्तान में हिंदुओं के बदतर हालात किसे से छिपे नहीं है। एक बार फिर यहां हिंदुओं के जबरन धर्मांतरण का मामला सामने आया है। पाकिस्तान में 60 हिंदुओं के धर्मांतरण का वीडियो फेसबुक पर शेयर किया जा रहा है।

वीडियो में एक मौलवी हिंदुओं को कलमा पढ़वा रहा है। हैरानी की बात यह है कि धर्मांतरण के इस सनसनीखेज मामले के पीछे जिन मौलवियों का हाथ है वे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी माने जाते हैं।

खबरों के मुताबिक, यह मामला सिंध प्रांत के मतली इलाके का है, जहां म्यूनिसिपल चेयरपर्सन के सामने हिंदुओं को जबरन कलमा पढ़वाया गया है।

बता दें कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदुओं की आबादी बमुश्किल 40 से 45 लाख के आसपास है जो कि इसकी कुल जनसंख्या का महज 2 फीसदी है। अधिकांश हिंदू पाकिस्तान के सिंध प्रांत में ही रहते हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस धर्म परिवर्तन के पीछे सिंध प्रांत के मौलवी मियां मिट्ठू और म्यूनिसिपल चेयरपर्सन अब्दुल राउफ निजामनी का हाथ बताया जा रहा है।

मियां मिट्ठू को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का करीबी माना जाता है। फेसबुक पर खुद को मतली का म्यूनिसिपल चेयरपर्सन बताने वाले अब्दुल राउफ निजामानी ने इस पूरी प्रक्रिया के कुछ वीडियो भी साझा किए हैं।

यहां देखें वीडियो

इन वीडियो के साथ निजामानी ने लिखा है, ‘अलहमदुलिल्लाह, आज मेरी निगरानी में 60 लोग मुसलमान हुए हैं। इनके लिए दुआ करें।’

facebook link

https://www.facebook.com/abdulrauf.nizamani.165/posts/1443876682634590

बता दें कि मियां मिट्ठू पाकिस्तान में गरीब हिंदू लड़कियों की किडनैपिंग और जबरन धर्म परिवर्तन के कई मामलों में कुख्यात माना जाता है।

मियां मिट्ठू एक वक्त में पाकिस्तान का सांसद भी रह चुका है। पाकिस्तान में धर्म परिवर्तन को रोकने के लिए कोई मजबूत कानून नहीं है।

सामाजिक संस्था मूवमेंट फॉर सॉलिडेरटी एंड पीस के मुताबिक सालभर में लगभग 1000 गैर-मुस्लिम युवतियों का जबरिया धर्म परिवर्तन हो रहा है।

बीते महीने ही यह खबर आई थी कि एक 13 साल की लड़की को जबरन इस्लाम कबूल करवाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button