इस मूलांक में जन्में लोग होते हैं रहस्यमयी, कर्म में रखते हैं ज्यादा विश्वास

Numerology

ज्योतिष शास्त्र में शनि को रहस्य का प्रतीक माना जाता है। कहा जाता है शनिदेव जातक को उसके कर्मों के हिसाब से फल देते हैं।

जिन लोगों का जन्म महीने की 8, 17 और 26 तारीख को होता है, उनका मूलांक 8 होता है। वहीं जिन लोगों का जन्म तिथि, महीना और साल तीनों का अंक जोड़कर योग 8 होता है वो इनका भाग्यांश अंक होता है।

मूलांक 8 वालों का स्वभाव-

मूलांक 8 वाले जातक रहस्यमयी होते हैं। ये हर विषय को गहराई से सोचते और समझते हैं। ये लोग आमतौर पर हर काम को चुपचाप बिना किसी को बताए करते हैं।

ये लोग भाग्य से ज्यादा कर्म में विश्वास रखते हैं। ये हर परिस्थिति में आसानी से ढल जाते हैं। इन्हें चापलूसी करना पसंद नहीं होता है और न ही ये किसी से चापलूसी कराना पसंद करते हैं। मूलांक 8 वालों के कठिन मेहनत के बाद सफलता मिलती है।

किस क्षेत्र में पाते हैं सफलता-

मूलांक 8 वालों को ज्यादातर शनि से संबंधित व्यापार करना चाहिए। ये लोग इंजीनियर, इलेक्ट्रॉनिक्स, तेल, पेट्रोल पंप, ऑटोमोबाइल और लोहे की वस्तुओं से संबंधित व्यापार करेंगे, तो सफलता अवश्य मिलेगी।

शनि को प्रसन्न करने के उपाय-

शनि के अशुभ प्रभावों से बचने के लिए शनि देव की पूजा करें।

रोजाना हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमान जी की पूजा करने से सभी तरह के दुख- दर्द दूर हो जाते हैं।

भगवान शिव को जल अर्पित करें। इस समय कोरोना महामारी की वजह से घर में रहकर ही भगवान शिव की पूजा करें।

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button