रविदास जयंती: पीएम ने की पूजा-अर्चना, ‘शबद कीर्तन’ में लिया हिस्सा; बजाया मंजीरा

Guru Ravidas Jayanti

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बुधवार को रविदास जयंती के मौके पर दिल्ली के करोल बाग स्थित श्री गुरु रविदास विश्राम धाम मंदिर में पूजा-अर्चना की।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने मंदिर में आए श्रद्धालुओं से बातचीत की। पीएम ने वहां महिलाओं संग बैठकर ‘शबद कीर्तन’ में भी हिस्सा लिया और मंजीरा बजाते दिखे।

प्रधानमंत्री ने बजाया मंजीरा

संत रविदास के बारे में

संत रविदास 15वीं से 16वीं शताब्दी के दौरान भक्ति आंदोलन से जुड़े थे और उनके भजन गुरु ग्रंथ साहिब में शामिल हैं। उन्हें 21वीं सदी के रविदासिया धर्म का संस्थापक माना जाता है। रविदास जयंती माघ पूर्णिमा को मनाई जाती है, जो हिंदू कैलेंडर के अनुसार माघ महीने की पूर्णिमा का दिन है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संत कवि रविदास की जयंती से पहले मंगलवार को कहा था कि उन्होंने जातिवाद और छुआछूत जैसी कुरीतियों को खत्म करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने हर कदम और योजना में गुरु रविदास की भावना को आत्मसात किया है।

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि बुधवार को रविदास जयंती के अवसर पर वह यहां करोल बाग स्थित श्री गुरु रविदास विश्राम धाम मंदिर में सुबह नौ बजे जन कल्याण के लिए प्रार्थना करेंगे।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, बुधवार को महान संत गुरु रविदास जी की जयंती है। उन्होंने समाज से जातिवाद और छुआछूत जैसी कुरीतियों को खत्म करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। वह आज भी हम सभी को प्रेरणा दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए कहा, इस अवसर पर मुझे संत रविदास जी की पवित्र स्थली को लेकर कुछ बातें याद आ रही हैं।

साल 2016 और 2019 में मुझे यहां मत्‍था टेकने और लंगर छकने का सौभाग्य मिला था। एक सांसद होने के नाते मैंने ये तय कर लिया था कि इस तीर्थस्थल के विकास कार्यों में कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। मोदी वाराणसी से लोकसभा सदस्य हैं।

मोदी ने कहा कि उन्हें यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि उनकी सरकार ने अपने सभी कदमों और योजनाओं में गुरु रविदास की भावना को आत्मसात किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इतना ही नहीं, वाराणसी में उनकी स्मृति में निर्माण कार्य पूरी भव्यता के साथ चल रहा है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button