एक विवाह ऐसा भी: 17 मिनट में वर-वधू ने लिए सात फेरे; बतौर शगुन लिया रामायण

प्रतीकात्मक तस्वीर

शाहजहांपुर (उप्र)। उप्र के शाहजहांपुर जिले के कलान तहसील क्षेत्र के पटना देवकली शिव मंदिर में एक ऐसा विवाह हुआ जो समाज के लिए अनुकरणीय है। अक्षय तृतीया के अति शुभ मुहूर्त में हुए इस विवाह में वर-वधू ने केवल 17 मिनट में सात फेरे लिए।

दूल्हे के सिर पर न सेहरा था, न दूल्हा घोड़ी पर बैठ कर आया। न ही बैंड बाजा था। कोरोना के कारण लगी बंदिशों के कारण ऐसी शादी हुई। बेहद सादे समारोह में हुई यह शादी पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है।

गुरु शुक्राचार्य की पावन तपोभूमि पटना देवकली शिव मंदिर पर महंत गिरी द्वारा सनाय के रहने वाले भाजपा महामंत्री व मीडिया कर्मी पुष्पेंद्र दुबे और हरदोई की प्रीति दुबे का विवाह सम्पन्न कराया गया।

वर-वधू बिना किसी बैंड बाजा व बारात के मात्र 17 मिनट में जीवन की डोर में बंध गए। शादी समारोह में उपस्थित मेहमानों समेत वर वधू ने दहेज प्रथा का विरोध करते हुए यह जागरूकता संदेश युवाओं को दिया।

पुष्पेंद्र ने लड़की वालों से बतौर शगुन एक रामायण ली। पुष्पेंद्र कहा कि हमें लोगों को बेटी की अहमियत समझनी चाहिए। उनकी जीवनसंगिनी बनी प्रीति ने बताया कि दहेज प्रथा ने बहुत से परिवारों को तबाह कर दिया है। इसे खत्म करने के लिए युवा वर्ग को आगे आना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button