सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, पुलवामा हमले में शामिल टॉप आतंकी अबू सैफुल्ला ढेर

encounter in kashmir

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले में शामिल जैश-ए-मोहम्मद के एक टॉप आतंकी को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मार गिराया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने शनिवार को कहा कि पुलवामा हमले में शामिल जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े एक टॉप पाकिस्तानी आतंकवादी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में मार गिराया गया है।

अधिकारी ने बताया कि अबू सैफुल्ला, जिसे अदनान, इस्माइल और लंबू के नाम से भी जाना जाता है, वह 2017 से ही घाटी में सक्रिय था, पुलवामा जिले के त्राल के हंगलमर्ग में एनकाउंटर के दौरान एक अन्य आतंकवादी के साथ मारा गया। आतंकी मसूद अजहर का भी काफी करीबी था।

एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि अदनान 14 फरवरी, 2019 को हुए पुलवामा आतंकी हमले सहित कई अन्य आतंकी हमलों में शामिल था। आतंकी अदनान पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद संगठन में रऊफ अजहर, मौलाना मसूद अजहर और अम्मार का एक मजबूत सहयोगी था।

बताया जा रहा है कि अदनान वाहन से चलने वाले IED का विशेषज्ञ था, जिसका अफगानिस्तान में नियमित रूप से उपयोग किया जाता है। 2019 के पुलवामा हमले में इसी का उपयोग किया गया था, जिसमें भारत के करीब 40 जवान शहीद हो गए थे।

अधिकारियों ने कहा कि वह तालिबान से भी जुड़ा था। वह तल्हा सैफ और उमर का करीबी रहा है, जो मारे दिए गए हैं। एक सुरक्षा डोजियर में कहा गया है कि उसने जैश संगठन को फिर से स्थापित करने और मजबूत करने की कोशिश की।

साथ ही अवंतीपोरा, विशेष रूप से पुलवामा के काकपोरा और पंपोर क्षेत्रों का उपयोग नए आतंकवादी समूहों की भर्ती के लिए और हमलों को अंजाम देने के लिए अन्य भागों में उन्हें ले जाने के लिए एक हॉटबेड के रूप में किया।

अधिकारी ने यह भी कहा कि दूसरे आतंकवादी की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। मारे गए आतंकवादियों के पास से एक एम-4 राइफल, एके-47 राइफल, एक ग्लॉक पिस्टल और एक अन्य पिस्टल बरामद किया गया है।

पुलिस ने कहा कि सुरक्षा बलों ने आज सुबह संयुक्त अभियान शुरू किया और घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान गोलीबारी शुरू हो गई, जिसमें दोनों आतंकी मारे गए।

सुरक्षा बलों ने इस साल जनवरी से अब तक कश्मीर में कुछ शीर्ष कमांडरों सहित कम से कम 87 आतंकवादियों को मार गिराया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button