राज्यसभा सोमवार तक के लिए स्थगित, चुनाव के बाद बनेगी MSP पर कमेटी

parliament of india (file photo)

नई दिल्ली। बजट सत्र 2022 में आज शुक्रवार की कार्रवाई के बाद राज्यसभा को सोमवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

कार्रवाई शुरू होते ही तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि द्वारा नीट मेडिकल परीक्षा से संबंधित विधेयक वापस करने पर राज्यसभा में जमकर नारेबाजी हुई। इसके बाद कांग्रेस, डीएमके व टीएमसी ने राज्यसभा से वॉकआउट कर दिया।

वहीं कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा एमएसपी पर पैनल बनाने पर सरकार प्रतिबद्ध है। तोमर ने कहा कि केंद्र सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कमेटी गठित करने के लिए प्रतिबद्ध है। पांच राज्यों में चुनाव के बाद जल्द से जल्द एमएसपी पर कमेटी गठित की जाएगी।

महिलाओं की गरिमा की रक्षा करना हमारा कर्त्तव्य: आईटी मंत्री

बुल्ली बाई और सुल्ली डील्स ऐप का मामला शुक्रवार को राज्यसभा में उठा। एक सवाल के जवाब में केंद्रीय आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने साफ शब्दों में कहा कि महिलाओं की अस्मिता की रक्षा करना हमारा मूल दायित्व है।

हम इस मुद्दे पर किसी धर्म या क्षेत्र से समझौता नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा ऐप को लेकर जो भी मामले सामने आए, उनमें त्वरित कार्रवाई की गई।

चन्नी के भतीजे पर कार्रवाई राजनीतिक: खड़गे

राज्यसभा की कार्रवाई शुरू होने से पहले कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे की गिरफ्तारी राजनीतिक गिरफ़्तारी है। चुनाव में डराने और तंग करने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

अगर किसी पर कार्रवाई करनी ही थी तो 4-5 महीने पहले करनी चाहिए थी, एक दिन में तो कुछ नहीं हुआ होगा। उनका मकसद सिर्फ चरणजीत सिंह चन्नी का मनोबल घटाना और उन्हें तंग करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button