केंद्र व बंगाल आमने-सामने, मुख्य सचिव अल्पन बंधोपाध्याय को ममता सरकार ने नहीं किया रिलीव

PM Modi Mamata Banerjee

नई दिल्ली। केंद्र और पश्चिम बंगाल सरकार के बीच टकराव जारी है। पीएम मोदी की समीक्षा बैठक में समय से नहीं पहुंचने वाले मुख्य सचिव अल्पन बंधोपाध्याय को ममता सरकार ने रिलीव नहीं किया है।   

दरअसल यास चक्रवात के बाद प्रधानमंत्री के पश्चिम बंगाल में आयोजित बैठक में ममता बनर्जी के साथ राज्य के मुख्य सचिव अल्पन बंधोपाध्याय के समय से नहीं पहुंचने को लेकर को दिल्ली तलब किया गया है।

गृहमंत्रालय ने उन्हें सोमवार को सुबह दस बजे तक डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग (DoPT) में रिपोर्ट करने का निर्देश दिया था, लेकिन सूत्रों की मानें तो बंगाल सरकार ने उन्हें अभी तक रिलीव नहीं किया है। लिहाजा चीफ सेक्रेट्री के दिल्ली पहुंचने की संभावना कम है।

ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से की अपील

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अल्पन बंधोपाध्याय सीएम ममता बनर्जी के साथ आज एक बैठक में हिस्सा लेंगे। नबान में तूफान और कोरोना महामारी से जुड़े मुद्दों पर होने वाली इस बैठक में मुख्य सचिव बंधोपाध्याय भी शामिल होंगे। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को पीएम मोदी से ट्रांसफर वापस लेने की अपील की थी। 

क्या है पूरा मामला

चक्रवाती तूफान यास से हुई तबाही के बाद पश्चिम बंगाल और ओडिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हालात का जायजा लिया था। इस दौरान बंगाल के मेदिनापुर में पीएम नरेंद्र मोदी ने एक समीक्षा बैठक रखी थी।

बैठक में सीएम ममता बनर्जी करीब 30 मिनट की देरी से पहुंची थीं। इस दौरान मुख्य सचिव अल्पन बंद्धोपाध्याय भी उनके साथ थे। प्रधानमंत्री की बैठक में देरी से जाना अल्पन बंधोपाध्याय को भारी पड़ा गया।

उन्हें तत्काल बंगाल के चीफ सेक्रेट्री के पद से हटाकर दिल्ली ट्रांसफर कर दिया गया, लेकिन उनके दिल्ली आने की संभावना कम बताई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button