वायु प्रदूषण पर उप्र सरकार की इस दलील पर SC ने कसा तंज, कही यह बात

aqi delhi today

नई दिल्ली। वायु प्रदूषण के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में जारी लगातार सुनवाई के दौरान कोर्ट ने उप्र सरकार की दलील पर तंज कसा।

दरअसल, उप्र सरकार ने आज कोर्ट को बताया कि उद्योगों के बंद होने से राज्य में गन्ना और दूध उद्योग प्रभावित हो सकते हैं। सरकार ने कहा कि हवा के दबाव को देखें तो यूपी नीचे है। यहां हवा ज्यादातर पाकिस्तान से आ रही है।

यूपी सरकार की इस दलील पर मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने चुटकी लेते हुए कहा तो आप पाकिस्तान में उद्योगों पर प्रतिबंध लगाना चाहते हैं।

दिल्ली में जारी वायु प्रदूषण पर सुनवाई के दौरान आज SC ने कहा कि हमने देखा है कि मीडिया के कुछ वर्ग यह दिखाने की कोशिश करते हैं कि हम खलनायक हैं।

हम स्कूलों को बंद करना चाहते हैं। आपने (दिल्ली सरकार) कहा था कि हम स्कूल बंद कर रहे हैं और वर्क फ्रॉम होम शुरू कर रहे हैं, लेकिन आज का अखबार देखें।

दिल्ली में वायु गुणवत्ता ”बहुत खराब” श्रेणी में

इन सबके बीच राष्ट्रीय राजधानी में आज शुक्रवार को वायु गुणवत्ता सुबह ‘बहुत खराब’ श्रेणी में दर्ज की गयी। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार, शुक्रवार को सुबह नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 358 रहा।

पड़ोसी एनसीआर शहरों फरीदाबाद (289) और ग्रेटर नोएडा (250) में वायु गुणवत्ता शुक्रवार को सुबह ‘खराब’ श्रेणी में दर्ज किया गया। बता दें कि शून्य से 50 के बीच AQI को अच्छा माना जाता है।

51 से 100 के बीच एक्यूआई संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बहुत खराब, और 401 से 500 के बीच एक्यूआई को गंभीर श्रेणी में माना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button