पीएम ने गिनाईं बजट की उपलब्धियां, भाजपा कार्यकर्ताओं से कही ये बात

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बुधवार को भाजपा कार्यकर्ताओं से संवाद के दौरान बजट 2022 की उपलब्धियां गिनाईं। गौरतलब है कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कल मंगलवार को देश का आम बजट लोकसभा में पेश किया था।

100 साल की सबसे बड़ी महामारी से लड़ रहा देश

पीएम मोदी ने कहा कि देश 100 साल में आई सबसे बड़ी महामारी से लड़ रहा है। कोरोना महामारी का ये कालखंड दुनिया के लिए अनेक चुनौतियां लेकर आया है।

दुनिया उस चौराहे पर आकर खड़ी हो गई है, जहां टर्निंग प्वाइंट निश्चित है। आगे जो दुनिया जो हम देखने वाले हैं वो वैसी नहीं होगी जैसी कोरोना से पहले थी।

दुनिया में बदल रहा भारत को देखने का नजरिया

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना के बाद एक नया वर्ल्ड ऑर्डर बनेगा। इसके संकेत भी नजर आने लगे हैं। आज भारत की तरफ देखने के विश्व के नजरिए में बड़ा बदलाव आ रहा है।

अब दुनिया के लोग भारत को अधिक मजबूत रूप में देखना चाहते हैं इसलिए पूरा विश्व जब भारत को नए सिरे से देख रहा है तो हमारे लिए भी जरूरी है कि देश को तेज गति से आगे बढ़ाएं। ये समय नए अवसरों और नए संकल्पों की सिद्धि का है।

तेजी से बढ़ा भारत का विदेशी मुद्रा रिजर्व

पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत की जीडीपी 2 लाख 30 हजार करोड़ के आस-पास है। आज भारत का विदेशी मुद्रा रिजर्व 630 बिलियन डॉलर को पार कर गया है। साल 2013-14 में भारत का एक्सपोर्ट 2 लाख 85 हजार करोड़ रुपये होता था। आज भारत का एक्सपोर्ट 4 लाख 70 हजार करोड़ रुपये का आसपास पहुंचा है।

कोरोना के इस काल में भी भारत ने अपनी अर्थव्यवस्था की मजबूती से दुनिया का ध्यान आकर्षित किया है। इस बजट का फोकस गरीब और युवाओं पर है। मूलभूत सुविधाओं को देना हमारा लक्ष्य है।

3 करोड़ गरीबों को बनाया लखपति

उन्होंने कहा कि पिछले 7 साल में हमारी सरकार ने 3 करोड़ गरीबों को पक्का घर देकर उन्हें लखपति बनाया है। अब करीब 9 करोड़ ग्रामीण घरों में नल से जल पहुंचने लगा है।

इसमें से करीब 5 करोड़ से ज्यादा पानी के कनेक्शन जल जीवन मिशन के तहत पिछले 2 साल में दिए गए हैं। बजट में घोषणा की गई है कि इस साल करीब 4 करोड़ ग्रामीण घरों को पानी का कनेक्शन दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जो गरीब थे झोपड़पट्टी में रहते थे, अब उनके पास अपना घर है। पहले के मुकाबले इन घरों के लिए राशि भी बढ़ाई और घरों का साइज भी बढ़ाया है ताकि बच्चों को पढ़ाई के लिए जगह मिल जाए। बड़ी बात ये भी है कि इसमें से ज्यादातर घर महिलाओं के नाम पर है यानी हमने महिलाओं को घर की मालकिन भी बनाया।

पीएम मोदी ने कहा कि विशेष रूप से केन-बेतवा को लिंक करने के लिए जो हजारों-करोड़ रुपये का प्रावधान किया है, उससे यूपी और एमपी के बुंदेलखंड क्षेत्र की तस्वीर भी बदलने वाली है। अब बुंदेलखंड के खेतों में और हरियाली आएगी, घरों में पीने का पानी आएगा, खेतों में पानी आएगा।

उन्होंने कहा कि भारत जैसे देश में कोई क्षेत्र पिछड़ा रहे, ये ठीक नहीं इसलिए हमने आकांक्षी जिला- Aspirational Districts अभियान शुरू किया था।

इन जिलों में गरीब की शिक्षा के लिए, स्वास्थ्य के लिए, सड़कों के लिए, बिजली-पानी के लिए जो काम हुए, उसकी प्रशंसा संयुक्त राष्ट्र ने भी की है।

पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्र की सुरक्षा के लिए हमारी सेनाएं, हमारे जवान दिन-रात जुटे रहते हैं, जान की बाजी भी लगा देते हैं लेकिन सीमा पर जो जवान तैनात हैं, उनके लिए सीमावर्ती गांव भी किले का काम करते हैं इसलिए उन सीमावर्ती गांवों की देशभक्ति का जज्बा भी अद्भुत होता है।

Back to top button