मप्र: इंदौर के इमारत में लगी भीषण आग, सात लोग जिंदा जले; मुआवजे का ऐलान

file photo

इंदौर। मध्‍य प्रदेश के इंदौर में शुक्रवार देर रात हुए एक भीषण अग्निकांड में सात लोगों की जिंदा जलने से मौत हो गई। ये दर्दनाक हादसा इंदौर की स्‍वर्णबाग कालोनी में हुआ। मरने वालों में छह पुरुष और एक महिला हैं।

हादसा रात 3 बजे के आस-पास हुआ। सूचना मिलते ही आला अधिकारी व दमकल वाहन मौके पर पहुंच गए। हालांकि आग पर जल्द ही काबू पा लिया गया था, लेकिन तब तक 7 लोगों की मौत हो चुकी थी।

आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शवों और घायलों को एमवाय अस्पताल भेज दिया गया है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने किया मुआवजे का ऐलान

मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों के लिए 4-4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि की घोषणा की। सीएम ने घटना की जांच के आदेश भी दिए और लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के भी आदेश दिए।

घटनास्‍थल हुआ सील

स्‍वर्ण बाग स्थित इस दो मंजिला इमारत में आग लगने से सात लोगों की दर्दनाक मौत के बाद इमारत को सील कर दिया गया है। फोरेंसिक विभाग की टीम सुबह ही जांच के लिए मौके पर पहुंच गई थी। आग लगने के कारणों की पुलिस जांच कर रही है।

पड़ोस में हो रहा था घर का निर्माण

मिली जानकारी के अनुसार रात में बिजली गुल हो गई, लेकिन जब बिजली आई तो पार्किंग मीटर में आग लग गई। मृतकों में एक दंपती भी शामिल है, जो तीन दिन पहले ही यहां शिफ्ट हुए थे। दंपति का घर पड़ोस में ही बन रहा था, इसलिए उन्होंने यहां किराये पर मकान लिया था।

इमारत में मेहमान भी थे

प्रत्यक्षदर्शी एहसान पटेल ने बताया कि रात करीब 3 बजे हमने शोर सुना। बाहर देखा तो इमारत में आग लगी हुई थी। हमने बाल्टियों में पानी भर आग बुझाने की कोशिश की। मेरा भाई इस इमारत में रहता है। इसके अलावा कुछ छात्र व अन्य परिवार भी वहां रहते हैं। तीन-चार दिन पहले कुछ मेहमान भी आए थे।

दमकल कर्मियों के मुताबिक, हमें दोपहर करीब 3 बजे सूचना मिली कि विजय नगर के स्वर्णबाग कालोनी में दो मंजिला इमारत में आग लग गई। सूचना मिलते ही टीम तुरंत रवाना हो गई। आग पर तुरंत काबू पा लिया गया, लेकिन कुछ लोगों की मौत हो गई थी।

माना जा रहा है कि आग बिल्डिंग की पार्किंग में लगे मीटर में शॉर्ट सर्किट से लगी है। आग वाहनों में लगी, जिसने विकराल रूप ले लिया। बताया जा रहा है कि इमारत में छात्रों के साथ परिवार भी रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button