राहुल गांधी के तीखे तेवर: बोले- हमें मार दीजिए या गाड़ दीजिए, फर्क नहीं पड़ता

rahul gandhi PC in DILLI

नई दिल्ली। उप्र के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मुद्दे पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज बुधवार को दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

राहुल गांधी ने सीधे तौर पर उप्र सरकार और केंद्र को निशाने पर लेते हुए कहा कि किसानों पर सरकार का आक्रमण हो रहा है। किसानों को जीप से कुचला जा रहा है। पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएम लखनऊ गए लेकिन लखीमपुर नहीं गए।

प्रियंका गांधी के साथ हुई धक्का-मुक्की के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा कि यह किसानों का मुद्दा है। प्रियंका के साथ धक्का-मुक्की हुई इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता।

राहुल ने कहा कि हमें मार दिया जाए, गाड़ दिया जाए, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, हमारी ट्रेनिंग ऐसी हुई है। यह किसानों का मुद्दा है। मैं लखनऊ जाकर जमीनी हकीकत पता करना चाहता हूं।

किसानों पर योजनागत तरीके से हमला किया जा रहा

राहुल ने कहा कि सरकार किसानों की ताकत नहीं समझ पा रही है। तीनों कृषि कानून किसानों पर हमला है। पूरे देश के किसानों पर योजनागत तरीके से हमला हो रहा रहा, पहले भूमि अधिग्रहण बिल वापस किया गया और फिर तीन काले कानून लाए गए। यूपी में किसानों को मारा जा रहा है।

राहुल गांधी को दौरे की परमिशन नहीं

लखनऊ पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने राहुल के दौरे को लेकर कहा, ‘सरकार ने राहुल गांधी को मंजूरी नहीं दी है। अगर वह लखनऊ आएंगे, तो हम उनसे एयरपोर्ट पर निवेदन करेंगे कि वह लखीमपुर खीरी और सीतापुर नजाएं। लखीमपुर और सीतापुर के एसपी-डीएम ने कानून-व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए हमसे राहुल गांधी को रोकने को कहा है।’

रेप-हत्या करने वाले जेल से बाहर, पीड़ित जेल के अंदर

राहुल ने कहा कि हम तीन लोग जा रहे हैं। सेक्शन 144 तब लागू होता है, जब 4 या फिर उससे ज्यादा लोग एक साथ हों।

उप्र में यह नए तरह की राजनीति है, जहां पीड़ित जेल के अंदर होते हैं और मारने वाले बाहर होते हैं। इससे पहले हाथरस कांड हुआ था और भाजपा के विधायक का भी रेप के मामले में नाम आया था।

इस दौरान राहुल गांधी मीडिया पर भी बरसते दिखे। उन्होंने कहा कि यह तो आपका काम है और उस जिम्मेदारी को आप लोग उठाते नहीं है। उल्टे आप लोग हमसे ही सवाल पूछते हैं कि राजनीति हो रही है।

देश की आवाज को कुचला जा रहा

राहुल गांधी ने कहा कि कभी देश में लोकतंत्र हुआ करता था, लेकिन आज तानाशाही का दौर है। नेता उत्तर प्रदेश में नहीं जा सकते। हमें कल से कहा जा रहा है कि आप यूपी नहीं जा सकते।

छत्तीसगढ़ के सीएम को कहा जाता है कि सेक्शन 144 लागू है। ये कहते हैं कि मैं अकेला हूं तो कैसे यह नियम लागू होगा लेकिन उन्हें परमिशन नहीं दी गई, यही तानाशाही है।

राहुल गांधी ने कहा कि हिन्दुस्तान की आवाज को कुचलने का काम हो रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के ढांचे पर भाजपा और आरएसएस ने कब्जा कर लिया है। सभी संस्थाओं को नियंत्रित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button