राहुल, ओवैसी, स्वरा व ट्विटर के एमडी के खिलाफ शिकायत, रासुका लगाने की मांग

Swara Bhaskar, Rahul Gandhi and Owaisi

गाजियाबाद (उप्र)। गाजियाबाद के लोनी में बुजुर्ग की बुरी तरह से पिटाई के बाद उसकी दाढ़ी काटने के मामले में  वायरल वीडियो को लेकर दिल्ली पुलिस को स्वरा भास्कर और ट्विटर इंडिया के एमडी मनीष माहेश्वरी व अन्य के खिलाफ तिलक नगर पुलिस थाने में शिकायत मिली है। पुलिस इसकी जांच कर रही है।

राहुल गांधी, ओवैसी, स्वरा भास्कर पर रासुका लगाने की मांग

72 साल के बुजुर्ग के साथ मारपीट और दाढ़ी काटने के मामले में लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने राहुल गांधी, असदुद्दीन ओवैसी, अभिनेत्री स्वरा भास्कर के खिलाफ रासुका लगाने की मांग की है। उन्होंने लोनी बार्डर थाने में तहरीर देकर कार्रवाई को कहा है।

विधायक ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि बीते पांच जून को लोनी में साजिश के तहत 72 साल के एक बुजुर्ग की दाढ़ी काटी गई, मारपीट की गई। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया गया।

पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी, एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी, अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने अपने आधिकारिक वेरिफाई ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया।

इससे पता चलता है कि मामले में हिंदू-मुस्लिम का रंग देने की कोशिश की गई है। यह एक पूर्व सुनियोजित षडयंत्र और किसी अंतरराष्ट्रीय साजिश का हिस्सा है।

लोनी समेत प्रदेश में माहौल बिगाड़ने की कोशिश है। उन्होंने तहरीर देकर रासुका लगाने की मांग की है। लोनी सीओ अतुल कुमार सोनकर ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचनाएं फैलाने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई- एडीजी कानून व्यवस्था

एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार गाजियाबाद में धार्मिक उन्माद फैलाने की कोशिश करने वालों के खिलाफ दर्ज एफआईआर पर बात करते हुए पूरी घटना का विवरण दिया

और बताया कि किस तरह कुछ लोगों ने प्रदेश का माहौल खराब करने के लिए सोशल मीडिया का दुरुपयोग किया। 

उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने और भ्रामक सूचनाएं फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सोशल मीडिया पर वायरल गाजियाबाद के वीडियो की जांच में पता चला कि वीडियो में अब्दुल समद सैफी नाम का बुजुर्ग जिन लोगों पर दाढ़ी काटने और धार्मिक नारे लगाने का दबाव बनाने का आरोप लगा रहा है वह उसका परिचित है।

अब्दुल समद तावीज बनाने का काम करता है। उसने आरोपियों को तावीज बेची थी। ताबीज का सकारात्मक असर न पड़ने के कारण आरोपियों ने समद के साथ मारपीट की थी।

आरोपियों में हिंदू और मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग थे। पुलिस ने इस मामले में परवेज गुर्जर, कल्लू और आदिल को सोमवार को गिरफ्तार भी कर लिया था।

इसका प्रेस नोट व वीडियो बाइट पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडिल से अपलोड भी किया गया। इसके बावजूद प्रदेश का माहौल खराब करने के लिए कुछ लोगों ने गलत और भ्रामक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया।

गाजियाबाद के थाना लोनी में विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है और साक्ष्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

एक साल में सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने पर 1107 मुकदमे

प्रशांत कुमार ने बताया कि बीते एक साल में सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने वाले 1107 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

इसमें अफवाह और भ्रामक सूचना फैलाने पर 118 मुकदमे, संप्रदायिक सद्भाव प्रभावित करने वाली टिप्पणी व पोस्ट पर 336 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा 623 अन्य मामले भी दर्ज किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button