इन योगसनों को करके हिप्स, जांघों व पेट के आसपास की चर्बी से पा सकते हैं छुटकारा

Malasana: Squat Pose

नई दिल्ली। बहुत से लोगों की हिप्स, जांघों व पेट के आसपास चर्बी जम जाती है, जिसकी वजह से वो फिट नहीं नजर आते। ज्यादातर लोग घरेलू उपाय या वर्कआउट करके इस समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं।

आप भी अगर इस समस्या से जूझ रहे हैं, तो हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसे आसन जिन्हें अपनाकर आप अपनी हिप्स की चर्बी कम कर सकते हैं-

तितली आसन (बटर फ्लाई)

बटर फ्लाई आसन

तितली आसन करने के लिए आप सुखासन में बैठ जाएं, अपनी सांस को नॉर्मल करें।

अब धीरे-धीरे दोनों पैरों के तलुओं को एक-साथ मिलाएं।

दोनों हाथों की उंगलियों को आपस में फंसाते हुए दोनों पैर के पंजे मुट्टी में होल्ड कर लें।

अब दोनों पैरों को तितली के पंखों की तरह ऊपर-नीचे मूव करें।

आप यह आसन हर दिन 5 से 10 मिनट तक कर सकते हैं।

इससे पेल्विक मसल्स को टोन करने में मदद मिलती है।

हिप और थाई का फैट कम होता है।

पेट पर चढ़ी चर्बी हट जाती है और बैक पेन में आराम मिलता है।

-यह आसन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान होनेवाली समस्याओं से निजात दिलाता है। जैसे क्रैंप्स, अनियमितता, लोअर बॉडी पार्ट में तेज दर्द और बेचैनी।

इस बात का खास ध्यान रखें कि महिलाओं को यह आसन पीरियड्स के दौरान नहीं करना चाहिए।

इस समय में आप केवल वॉक करें।

तितली आसन पैरों की और खासतौर पर जांघों की मसल्स को मजबूत बनाता है।

इससे घुटनों पर एक्स्ट्रा दबाव नहीं पड़ता।

वेट कंट्रोल में रहने से आप अच्छा और एनर्जेटिक फील करते हैं।

मलासन (स्क्वॉट पोजिशन)

The Malasana Pose Has Many Benefits! - Wellness Joy
मलासन (स्क्वॉट पोजिशन)

स्क्वॉट पोजिशन को मलासन के रूप में जाना जाता है।

इस आसन को करने के लिए आप एक स्थान पर सीधे खड़े हो जाएं।

अपने पैरों के बीच एक से डेढ़ फीट का गैप बनाएं।

घुटनों से पैर मोड़कर कुर्सी पर बैठने की पोजिशन मेंटेन करके रखें।

-फोटो में आप देख सकते हैं कि आपको न तो कुर्सी पर बैठना है और न घुटनों के बल बैठना है।

आप स्क्वॉट पोजिशन में खुद को जितनी देर हो सके होल्ड करें।

यह प्रक्रिया आपको 15 से 20 बार दोहरानी है। आप इसके 2 से 3 सेट एक बार में कर सकते हैं।

हर सेट के बीच 10 से 15 सेकंड का ब्रेक लें।

ध्यान रखें कि भरपेट खाने के तुंरत बाद कोई भी आसन नहीं करना चाहिए बल्कि आसन और भोजन के बीच 2-3 घंटे का अंतर जरूर होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button