उप्र में अब दूरबीन से खोजने पर भी नजर नहीं आते माफिया: अमित शाह

amit shah in lko

लखनऊ। भारत के गृह मंत्री अमित शाह ने आज शुक्रवार को लखनऊ में उप्र विधानसभा चुनाव 2022 के भारतीय जनता पार्टी के चुनावी मिशन का शुभारंभ कर दिया।

उन्होंने हिंदुत्व, राष्ट्रवाद और विकास के मुद्दों को उठाते हुए विपक्ष पर चौतरफा हमला बोला औैर भाजपा कार्यकर्ताओं से जुटने की अपील की।

अमित शाह ने कहा कि यह प्रदेश महात्मा बुद्ध की कर्मभूमि है। भगवान शिव की काशी की धरती है लेकिन लोगों को यह अहसास नहीं होता था। मुगलों के शासन से लेकर 2017 तक ऐसा महसूस नहीं होता था। 2017 में जब भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार आई तो उसने यूपी को उसकी पहचान वापस दिलाई।

अमित शाह ने कहा कि भाजपा ने यूपी को देश के प्रमुख राज्यों की कतार में लाने का काम किया है। बीजेपी ने यह साबित किया है कि सरकारें किसी परिवार के लिए नहीं बल्कि गरीब से गरीब व्यक्ति के कल्याण के लिए होती है।

राज्य में भाजपा के चुनावी मुद्दों की टोन सेट करते हुए अमित शाह ने कहा कि बीते 5 सालों में जो लोग घर पहुंच गए थे, वे नए कपड़े पहनकर आ गए हैं कि हमारी सरकार बनेगी। मैं एक हिसाब अखिलेश जी से मांगना चाहता हूं कि आप 5 सालों में विदेश कितने दिन रहे।

यूपी में कोरोना आया और बाढ़ आई तो आप कहां थे। इन लोगों ने शासन अपने लिए और परिवार के लिए किया। सोच बहुत बड़ी हो गई तो जाति के लिए कर दिया लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार राज्य के दलित, महिला, पिछड़े और युवा समेत सभी के लिए चली है।

इन लोगों ने शासन अपने लिए और परिवार के लिए किया। सोच बहुत बड़ी हो गई तो जाति के लिए कर दिया। लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार राज्य के दलित, महिला, पिछड़े और युवा समेत सभी के लिए चली है।

अमित शाह ने कहा कि भाजपा जनता की इच्छा से ही घोषणा पत्र तैयार करती है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ और उनकी सरकार ने 90 फीसदी वादों को पूरा कर दिया है।

मंच से ही अमित शाह ने योगी आदित्यनाथ से कहा कि अभी दो महीने बाकी हैं और आप इसे 100 फीसदी तक ले जाइए। भाजपा का यह सदस्यता अभियान नवंबर और दिसंबर महीने में चलेगा।

‘दूरबीन से खोजने पर भी नजर नहीं आते अब माफिया’

योगी सरकार के दौर में कानून व्यवस्था सुधरने का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि एक दौर था कि कैराना में पलायन शुरू हो गया था। हर जिले में दो या तीन माफिया हुआ करते थे, लेकिन अब दूरबीन से खोजने पर भी माफिया नजर नहीं आते हैं।

अमित शाह ने कहा कि यूपी की जनता ने हमें भोले शंकर की तरह आशीर्वाद दिया है। मैं आपका ऋणी रहूंगा। आप जो भी देते हैं, उसका तीन गुना मोदी जी वापस करते हैं।

किसी को यकीन नहीं था कि वह जीते जी अयोध्या में राम मंदिर देख पाएगा, लेकिन आपने दोबारा पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई तो राम मंदिर बन रहा है।

‘आप तो राम मंदिर के लिए 5,000 रुपये देने से भी चूक गए’

अमित शाह ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि आप कहते थे कि मंदिर वहीं बनाएंगे, लेकिन तारीख नहीं बताएंगे। आपको बताना चाहता हूं कि राम मंदिर की नींव भी रख दी गई है और आप 5,000 रुपया भी देने से चूक गए।

अमित शाह ने कहा कि परिवारवादी पार्टी और भाजपा में यही फर्क है। हमारा वादा था कि हम कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाएंगे। इसके लिए हमारे पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने इसके लिए बलिदान भी दिया था। अब जाकर हमने इस वादे को पूरा किया है।

‘मेरा परिवार बीजेपी परिवार’ के नाम से सदस्यता अभियान की शुरुआत

इस दौरान अमित शाह ने कहा कि ‘मेरा परिवार बीजेपी परिवार’ के नाम से सदस्यता अभियान की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि नवंबर और दिसंबर में यह अभियान चलेगा। गृह मंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि महिलाओं, युवाओं और पिछड़ों समेत सभी वर्गों को भाजपा से जोड़ा जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button