आनंद के साथ-साथ शारीरिक और मानसिक लाभ भी देता है ऑर्गेज्म

Orgasms

यदि आप एक संभोग सुख के बारे में बात करते हैं, तो इसे अत्यधिक आनंद और उत्तेजना की भावना के रूप में परिभाषित किया जा सकता है, जिसे ऑर्गेज्म कहते हैं।

यह एक प्रकार की खास क्रिया है जो तंत्रिका तंत्र द्वारा नियंत्रित होती है। यह संचित कामुक तनाव का निर्वहन करता है, बदले में आराम की अनुभूति देता है।

ये हैं ऑर्गेज्म के सात फायदे

1. अपने साथी के करीब लाता है ऑर्गेज्म

ऑर्गेज्म आपको अपने साथी के करीब लाने में मदद कर सकता है,

उसके साथ एक मजबूत बंधन बनाने में मदद कर सकता है।

ये ऑक्सीटोसिन के स्राव को बढ़ाता हैं, जो बंधन और प्यार की भावना को बढ़ाता है।

इसके अलावा, एक अच्छा यौन जीवन बनाए रखने से आपको अपने साथी के साथ एक स्वस्थ बंधन बनाए रखने में मदद मिलती है।

2. दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है ऑर्गेज्म

मासिक धर्म के दौरान ऐंठन होने पर भी कामोत्तेजना दर्द से राहत दिलाने में मदद करती है।

यह एंडोर्फिन और कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स के स्राव के कारण होता है।

3. तनाव को कम करता है ऑर्गेज्म

ऑक्सीटोसिन (हार्मोन जो आनंद की भावना को बढ़ाता है) और कोर्टिसोल (तनाव को बढ़ाने वाला हार्मोन) में कमी के कारण, आपको कम तनाव और अधिक खुशी का अनुभव होने की संभावना है।

ऑर्गेज्म त्वचा के लाभ भी प्रदान करता है, जिससे आप खुश हो सकते हैं।

4. बेहतर नींद में मदद करता है ऑर्गेज्म

प्रोलैक्टिन नामक एक हार्मोन संभोग के बाद जारी किया जाता है, साथ ही ऑक्सीटोसिन और वैसोप्रेसिन का प्रभाव आपको बेहतर नींद में मदद करता है।

यही वजह है कि ऑर्गेज्म के बाद आप काफी रिलैक्स फील करती हैं।

5. कामोन्माद स्वस्थ मासिक धर्म चक्र में मदद कर सकता है

नियमित ऑर्गेज्म आपके मासिक धर्म चक्र के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

जब आप कामोन्माद प्राप्त करते हैं, तो कई पोषक तत्व और रक्त योनि की ओर दौड़ते हैं, जिससे एक स्वस्थ मासिक धर्म सुनिश्चित होता है।

ऑर्गेज्‍म आपको पीरियड क्रैम्‍प्‍स भी राहत दिला सकता है।

6. गर्भधारण की संभावना को बढ़ाता है

कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि कामोन्माद आपके गर्भ धारण करने की संभावना को बढ़ाता है और आपको स्वस्थ गर्भावस्था में भी मदद करता है। इसके पीछे का कारण ऑक्सीटोसिन का निकलना है।

7. ऑर्गेज्म आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार कर सकता है

शोध से पता चला है कि ऑर्गेज्म किसी व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार कर सकता है।

हर हफ्ते ऑर्गैज़्म करने से आपके शरीर की एंटीबॉडी को बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

क्यों प्राप्त करते हैं हम ऑर्गेज्म?

तीव्र यौन उत्तेजना कामोत्तेजना का कारण बनती है।

यह यौन क्रिया के दौरान भी प्राप्त किया जा सकता है, जिसमें संभोग से लेकर फोरप्ले तक भी शामिल है।

संभोग अक्सर निप्पल, जननांगों, गुदा और पेरिनेम जैसे कामुक क्षेत्रों की उत्तेजना की भावना के बाद होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button