चित्रकूट में आरएसएस की दो दिवसीय बैठक आज से, 5 राज्यों के चुनाव पर होगी चर्चा

चित्रकूट (उप्र)। राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) की एक बड़ी बैठक आज चित्रकूट में शुरू हो रही है। इस बैठक में देश भर के प्रचारकों के अलावा संघ प्रमुख डॉ.मोहन भागवत और सरकार्यवाह दत्‍तात्रेय होसबाले भी मौजूद रहेंगे।

संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने बताया कि 9-10 जुलाई को 11 क्षेत्रों के क्षेत्र प्रचारक तथा सह क्षेत्र प्रचारकों की बैठक चित्रकूट में होगी।

बैठक सामान्यतः संगठनात्मक विषयों पर केंद्रित रहेगी। हालांकि माना जा रहा है कि इस बड़ी बैठक में कोरोना और अन्‍य समसामयिक विषयों के अलावा यूपी समेत पांच राज्‍यों के चुनाव पर फोकस रहेगा।

हाल में संघ प्रमुख मोहन भागवत का हिन्‍दू और मुसलमानों के डीएनए वाला बयान काफी चर्चा में रहा था। भागवत पिछले तीन दिनों से चित्रकूट में हैं। रामजन्‍मभूमि ट्रस्‍ट के अध्‍यक्ष चंपत राय भी गुरुवार को चित्रकूट पहुंचे हैं।

सुनील आंबेकर ने बताया कि अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक हर साल जुलाई में होती है लेकिन पिछले साल चित्रकूट में ही आयोजित बैठक कोरोना के चलते नहीं हो पाई थी।

स्वाभाविक रूप से इस वर्ष चित्रकूट में ही यह बैठक हो रही है । इस वर्ष भी कोरोना के नियमों के अनुसार संख्या को नियंत्रित करने हेतु कुछ कार्यकर्ता यहां प्रत्यक्ष रूप से और कुछ वर्चुअली जुड़ रहे हैं।

बैठक में आरएसएस के पांचों सहसरकार्यवाह मौजूद रहेंगे। इसके साथ ही संघ के सातों कार्य विभाग के अखिल भारतीय प्रमुख और सह प्रमुख सहभागी होंगे।

12 जुलाई को देशभर के संघ रचना के अनुसार सभी 45 प्रांतों के प्रांत प्रचारक और सह प्रांत प्रचारक वर्चुअली जुड़ेंगे।

13 जुलाई को विभिन्‍न अनुषांगिक संगठनों के अखिल भारतीय संगठन मंत्री बैठक में वर्चुअली शामिल होंगे।

सुनील आंबेकर के मुताबिक बैठक में कोरोना के संक्रमण से पीड़ित लोगों की सहायता के लिए स्वयंसेवकों द्वारा किये गये देशव्यापी सेवा कार्यों की भी समीक्षा की जाएगी।

इसके साथ ही संभावित तीसरी लहर के प्रभाव का आकलन करते हुए इसके लिए आगे की रणनीति बनाई जाएगी। इस काम के लिए आवश्यक प्रशिक्षण और तैयारी पर भी विचार किया जाएगा।

इसके अलावा संघ की शाखाओं के संचालन की समीक्षा तथा योजनाओं पर भी बैठक में चर्चा होगी।बैठक में संघ शिक्षा वर्ग और विभिन्न प्रकार के संघ कार्यों का आकलन करते हुए नई योजनाओं पर विचार किया जायेगा।

इसके अलावा संघ प्रमुख और प्रमुख पदाधिकारियों के अगले प्रवासों की कार्ययोजना भी बैठक में तय होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button