पेटीएम के नतीजे जारी, शुद्ध घाटा 532 करोड़ से बढ़कर हुआ 778 करोड़

paytm

नई दिल्ली। पेटीएम लिमिटेड ने दिसंबर तिमाही के नतीजे जारी कर दिए हैं। 31 दिसंबर, 2021 को समाप्त दिसंबर तिमाही में पेटीएम का शुद्ध घाटा बढ़कर 778 करोड़ रुपए हो गया है। एक साल पहले दिसंबर तिमाही में 532 करोड़ का शुद्ध घाटा हुआ था।

बता दें कि शेयर बाजार में लिस्टेड होने के बाद पेटीएम ने दूसरी बार तिमाही नतीजे जारी किए हैं। इससे पहले सितंबर तिमाही में भी पेटीएम को घाटा हुआ था। इस तिमाही में पेटीएम का शुद्ध घाटा 482 करोड़ रुपए था।

राजस्व का ये है हाल

दिसंबर तिमाही के दौरान परिचालन से राजस्व 89 फीसदी बढ़कर 1,456 करोड़ रुपए हो गया। वहीं पिछले वर्ष की दिसंबर तिमाही में राजस्व 772 करोड़ रुपए था।

दिसंबर तिमाही के दौरान सकल व्यापारिक मूल्य (GMV) सालाना आधार पर 123 फीसदी बढ़कर 2.5 लाख करोड़ रुपये हो गया। ऑनलाइन और ऑफलाइन मर्चेंट बेस में इजाफा, यूजर्स में वृद्धि और त्योहारी सीजन के कारण ये बढ़ोतरी हुई है।

शेयर का हाल

पेटीएम के शेयर की बात करें तो इसमें मामूली बढ़त है। पेटीएम के शेयर की कीमत 0.91 फीसदी बढ़त के साथ 953.25 रुपए है। कंपनी का मार्केट कैपिटल 61,796.69 करोड़ रुपए है।

हालांकि, शेयर का भाव इश्यू प्राइस से अब भी करीब 50 फीसदी कम है। पेटीएम के शेयर का ऑल टाइम लो लेवल 875.50 रुपए है।  वहीं, ऑल टाइम हाई लेवल 1,961.05 रुपए है।

बता दें कि पेटीएम की भारतीय शेयर बाजार में 18 नवंबर को लिस्टिंग हुई है। लिस्टिंग के बाद पेटीएम के उन निवेशकों को बड़ा नुकसान हुआ है, जिन्हें आईपीओ अलॉट हुआ था।

बता दें कि इश्यू प्राइस 2150 रुपए पर था। पेटीएम के एक लॉट में 6 शेयर थे। पेटीएम ने आईपीओ के जरिए 18,300 करोड़ रुपए जुटाए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button