पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर हाउस अरेस्ट, पुलिस ने कहा- सिर्फ गोरखपुर जाने से रोका गया

IPS Amitabh Thakur

लखनऊ। जबरन रिटायर किए गए चर्चित पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर को लखनऊ पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया है। इसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट के जरिए दी। वहीं पुलिस का कहना है कि गिरफ्तारी नहीं की गई। उन्हें केवल गोरखपुर जाने से रोका गया है।

अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उनकी गिरफ्तारी क्यों हुई है? अमिताभ ठाकुर ने शनिवार सुबह ट्वीट कर जानकारी दी कि उन्हें गोरखपुर जाने से रोका गया है। पुलिस घेरे में रखा गया है। उनकी पुलिस से बातचीत चल रही है।

दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि उन पर रेप आरोपी का साथ देने का आरोप है। आरोपों की जांच चल रही है। कमेटी ने गंभीर आरोप की जांच के लिए इन्हें तलब किया है। कमेटी के सामने इन्हें पेश होना है।

इससे पहले इन्हें लखनऊ से बाहर जाने से रोका गया था। खासकर उस रीजन में जो आरोपी, पीड़िता या घटनास्थल से जुड़ा हुआ हो। बावजूद इसके इन्होंने प्रतिबंध का उलंघन किया।

गौरतलब है कि अमिताभ ठाकुर ने एक हफ्ते पहले सीएम योगी के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया था।

वह सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनावी जनसंपर्क के लिए गोरखपुर जा रहे थे। इस बीच उन्हें ACP गोमतीनगर ने आकर रोक लिया।

बता दें 1992 बैच के आईपीएस अमिताभ ठाकुर आईजी रूल्स एंड मैनुअल के पद पर थे। उन्हें जबरिया रिटायर किया गया था। अमिताभ ठाकुर कवि व लेखक भी हैं। अमिताभ ठाकुर का विवादों से हमेशा नाता रहा।

पिछली अखिलेश सरकार में मुलायम सिंह से विवाद का ऑडियो वायरल होने के बाद निलंबित कर दिए गए थे। अमिताभ के खिलाफ पांच विभागीय कार्रवाई भी हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button