Tata Sons की हुई Air India, मंत्रियों के पैनल ने प्रस्ताव को किया स्वीकार

air india

नई दिल्ली। सरकार के मालिकाना हक वाली विमानन कंपनी एयर इंडिया अब टाटा संस (Tata Sons)की हो गई। Tata Sons ने एयर इंडिया को बेचने के लिए लगी बोली जीत ली है। मंत्रियों के एक पैनल ने टाटा संस के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। ब्‍लूमबर्ग ने यह जानकारी दी है।

सरकार ने Air India में अपनी 100 फीसद हिस्सेदारी को बेचने के लिए बोली प्रक्रिया को शुरू किया था। हालांकि Tata Sons ने अभी इस विषय पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है।

बता दें कि Air India के विनिवेश के लिए केंद्र सरकार को बुधवार को कई वित्तीय बोलियां मिली थीं। टाटा संस और उद्योगपति अजय सिंह ने अपनी व्यक्तिगत क्षमता में एयर इंडिया के लिए वित्तीय बोलियां जमा की थीं।

स्पाइसजेट के प्रवर्तक अजय सिंह ने कुछ अन्य संस्थाओं के साथ मिलकर एयरलाइन के लिए एक संयुक्त बोली लगाई थी। समाचार एजेंसी IANS के मुताबिक टाटा संस के प्रवक्ता ने बताया कि टाटा ने एयर इंडिया के लिए वित्तीय बोली जमा की है।

Dipam के सचिव तुहिन कांता पांडे ने ट्विटर पर कहा था कि विनिवेश प्रक्रिया अब अंतिम चरण में है। एयर इंडिया के विनिवेश के लिए वित्तीय बोलियां लेनदेन सलाहकार को मिली हैं। टाटा की बोली बहुप्रतीक्षित थी, क्योंकि उसका नाम पिछले कुछ समय से चर्चा में था।

महामारी आने से पहले, एयरलाइन ने एक स्टैंडअलोन आधार पर 50 से अधिक घरेलू और 40 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय गंतव्यों का संचालन किया।

इसके अलावा, इसने कोविड महामारी से पहले 120 से अधिक विमानों का संचालन किया। उस अवधि के दौरान, एयरलाइन में 9,000 से अधिक स्थायी और 4,000 संविदा कर्मचारी थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button