लखनऊ: शायर मुनव्वर राना के घर पुलिस का छापा, यह है पूरा मामला

munawwar rana

लखनऊ। उप्र पुलिस शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना को गिरफ्तार करने के लिए गुरूवार की रात करीब 2 बजे हुसैनगंज के लालकुआं स्थित ढींगरा अपार्टमेंट में उनके फ्लैट पर पहुंची। 

छापेमारी के दौरान लखनऊ और रायबरेली पुलिस ने फ्लैट का कोना-कोना छान मारा लेकिन तबरेज घर पर नहीं मिला।

मुनव्वर राना और उनकी बेटी ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने घर में जमकर तांडव किया और सभी के मोबाइल फोन छीन लिए। महिलाओं से अभद्रता भी की। वह पुलिस के बर्ताव से खासे नाराज हैं। 

यह है पूरा मामला

28 जून को मुनव्वर राणा के बेटे तबरेज राणा ने रायबरेली के सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था।

उनका आरोप था कि वह अपनी कार से त्रिपुला चौराहे के पास स्थित पेट्रोल पंप से डीजल लेकर निकल रहे थे तभी एक बाइक पर सवार दो युवकों ने कार पर फायरिंग कर दी। 

तबरेज का कहना है कि वह अपनी लाइसेंसी गन लेकर नीचे उतरे तो नकाबपोश बदमाश मौके से भाग गए। पुलिस ने पेट्रोल पंप के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज लेकर मामले की जांच शुरू की।

कोतवाल का दावा है कि तबरेज पर हमले का पूरा मामला फर्जी निकला। तबरेज ने अपने चाचा और चचेरे भाइयों को फंसाने के लिए मुकदमा दर्ज कराया था। 

अब रायबरेली पुलिस ने तबरेज राना को फर्जी मुकदमा दर्ज कराने, प्रतिद्वंदी को फंसाने और तथ्य छुपाने का आरोपी बना दिया है।

इसके बाद रायबरेली पुलिस तबरेज की तलाश कर रही है। इसी सिलसिले में गुरुवार देर रात लखनऊ में छापेमारी की गई।

मुनव्वर ने बताया था जान का खतरा

शायर मुनव्वर राना ने बेटे तबरेज पर जानलेवा हमले के बाद रायबरेली पुलिस से जान की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए कहा था कि पुश्तैनी जमीन के लिए मेरे भतीजे मेरी हत्या की साजिश रच रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button