हिंदू धर्म और हिंदुत्व अलग-अलग चीजें, नफरत वाली विचारधारा पड़ी है भारी: राहुल

rahul gandhi

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता व सांसद राहुल गांधी ने आज शुक्रवार को पार्टी के डिजिटल ‘जन जागरण अभियान’ का उद्घाटन करते हुए इशारों-इशारों में सलमान खुर्शीद की किताब पर चल रहे विवाद को लेकर अपनी बात रखी। 

राहुल ने कहा, “आखिर हिंदू धर्म और हिंदुत्व में क्या अंतर है, क्या वे एक ही बातें हैं। अगर वे एक ही बात हैं, तो हम उनके लिए एक जैसा नाम क्यों नहीं इस्तेमाल करते?

ये जाहिर तौर पर दो अलग-अलग चीजें हैं। क्या हिंदू धर्म किसी सिख या मुस्लिम को मारना है, लेकिन हिंदुत्व का यही काम है।”

भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि आज लोग हिंदू धर्म और हिंदुत्व को एक समझने लगे हैं, जबकि ये दोनों अलग-अलग बातें हैं।

उन्होंने कहा, “हमें चाहे यह पसंद हो या नहीं, लेकिन भाजपा-संघ की नफरत वाली विचारधारा कांग्रेस की प्यार और राष्ट्रवाद वाली विचारधारा पर भारी पड़ी है। हमें यह मानना होगा।” 

कांग्रेस की विचारधारा का प्रसार जरूरी

राहुल ने कहा, हमारी विचारधारा अभी भी जिंदा है, जीवंत है लेकिन इसका प्रभाव कुछ कम हुआ है। इसका प्रभाव कम इसीलिए हुआ है, क्योंकि हम इसका अपने ही लोगों के बीच ठीक से प्रसार नहीं कर पाए। 

आगे अपनी योजना को लेकर राहुल ने कहा, कांग्रेस का कोई भी व्यक्ति कितना भी सीनियर हो या जूनियर, उसके लिए ट्रेनिंग अहम है। सिस्टमैटिकली ट्रेनिंग अहम है और यह हमें पूरे देश में करनी है। अगर हमने अपनी विचारधारा को अपने संगठन में गहराई से उतार लिया, तो हम आगे बढ़ सकते हैं।

खुर्शीद की किताब से उठा विवाद

गौरतलब है कि सलमान खुर्शीद ने अपनी नई किताब में हिंदुत्व की तुलना आईएसआईएस और बोको हरम जैसी जिहादी इस्लामिक विचारधारा से की थी। इसे लेकर भाजपा लगातार कांग्रेस पर हमलावर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button