मोदी सरकार कर्मचारियों को दे सकती है एक और तोहफा, HRA बढ़ाने की चर्चा

PM narendra modi

नई दिल्ली। कोरोना काल में डेढ़ साल से महंगाई भत्ता (DA-dearness allowance) पर लगी रोक को इस साल जुलाई माह में हटाने का फैसला केंद्र सरकार ने लिया था, जिसके चलते 48 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनर्स को फायदा हुआ।

अब त्योहारी सीजन में में केंद्र की मोदी सरकार कर्मचारियों को एक और तोहफा दे सकती है। दरअसल दिवाली से पहले केंद्र सरकार की ओर से कर्मचारियों के लिए हाउस रेंट अलाउंस (HRA) बढ़ाने की चर्चा हो रही है।

ये है नियम

वित्त मंत्रालय का नियम है कि महंगाई भत्ता बढ़ने के साथ ही एचआरए में भी इजाफा किया जाता है। जब महंगाई भत्ते की दर 25 फीसदी से ऊपर चली जाएगी तो हाउस रेंट अलाउंस तीन फीसदी बढ़ता है।

मोदी सरकार ने जुलाई में सरकारी कर्मचारियों को बड़ा तोहफा देते हुए महंगाई भत्ता (DA) 17 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी किया था।

ऐसे में अब दिवाली से पहले केंद्र सरकार कर्मचारियों के हाउस रेंट अलाउंस को बढ़ा सकती है। रिपोर्ट्स के अनुसार अगस्त के लिए सरकार हाउस रेंट अलाउंस (HRA) में तीन फीसदी की वृद्धि कर सकती है। 

इतना हो सकता है एचआरए

एक्स श्रेणी वाले शहरों में जिन कर्मियों की पोस्टिंग है, उन्हें अपने मूल वेतन का 24 फीसदी एचआरए मिलता है। वाई श्रेणी वालों को 16 फीसदी और जेड श्रेणी वाले शहरों में काम कर रहे कर्मचारियों को आठ फीसदी एचआरए दिया जाता है।

डीए बढ़ने के बाद अब इन तीन श्रेणियों में एचआरए की नई दरें क्रमशः 27 फीसदी, 18 फीसदी और नौ फीसदी हो जाएंगी।

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग के अनुसार, एचआरए देने के लिए कर्मी के मूल वेतन यानी ‘बेसिक पे’ को ही आधार बनाया जाता है। पे मेट्रिक्स के हिसाब से कर्मी को जितना मूल वेतन मिलता है, उसी पर एचआरए मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button