कुशीनगर हादसा: 4-4 लाख रुपये मुआवजा व घायलों का मुफ्त इलाज

कुशीनगर हादसा

कुशीनगर (उप्र)। उप्र के कुशीनगर जनपद के नौरंगिया टोला गांव में बुधवार रात हुए हादसे में मृतकों की संख्या 13 हो गई है।

जिला प्रशासन ने मृतक आश्रितों को चार-चार लाख रुपया आर्थिक सहायता देने की घोषणा करने के साथ घायलों के नि:शुल्क इलाज की भी व्यवस्था की है। कुएं में एसडीआरएफ की टीमें अभी भी शवों की तलाश में हैं।

क्या हुआ था हादसा

बता दें कि कुशीनगर के नेबुआ नौरंगिया थानाक्षेत्र के नौरंगिया में विवाह के दौरान मटकोड़ की रस्म अदा करने गई महिलाओं के साथ कई किशोरियां व बच्चे लौटते समय कुएं में गिर गए। इस दर्दनाक हादसे में 13 की मौत हो गयी है।

घटनाक्रम के अनुसार थानाक्षेत्र के नौरंगिया के स्कूल टोला निवासी परमेश्वर कुशवाहा के पुत्र की आज बृहस्पतिवार को शादी है। वैवाहिक रस्म के क्रम में महिलाएं हल्दी की रस्म अदायगी के दौरान कल गांव में बाहर मटकोड़ करने गई थीं, उनके साथ बच्चे भी गए थे।

लौटते समय रात हो गयी। रास्ते में भीड़ अधिक थी। महिलाएं और किशोरियां नाचते गाते हुए लौट रही थीं। दो-तीन बच्चे भी थे। गांव में आने का रास्ता संकरा है और किनारे गहरा कुआं है। इस पर बीस साल पहले स्लैब पड़ी थी। जगह न मिलने से कुछ बच्चे व महिलाएं कुएं पर चढ़ गए।

अचानक स्लैब टूट गया और कई लोग कुएं में गिर पड़े। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से कुएं में पंप लगवाया। पानी निकालने के साथ गिरे लोगों को निकालने का सिलसिला शुरू हुआ। कुएं में 23 लोग गिरे थे।

सभी को निकट के अस्पताल भेजा गया। इनमें 13 की हालत गंभीर देख कर जिला अस्पताल भेजा गया। इन सभी को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। भीड़ इतनी अधिक जुट गयी थी कि पहचान हुए बगैर सभी शवों को मोर्चरी भेज दिया।

पीएम मोदी ने जताई गहरी संवेदना

पीएम मोदी ने कुशीनगर हादसे में जान गंवाने वाले पीड़ितों के परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की है घायलों के जल्द ठीक होने की कामना की है।

उन्होंने कहा, ‘उप्र के कुशीनगर में हुआ हादसा हृदयविदारक है। इसमें जिन लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। इसके साथ ही घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। स्थानीय प्रशासन हर संभव मदद में जुटा है।’

सीएम ने जताया शोक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुएं में गिरने की दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंच कर बचाव व राहत कार्य संचालित करने तथा हादसे में घायल लोगों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं।

हादसे में इनकी हुई मौत

परी (01) पुत्री राजेश चौरसिया

आरती (10) पुत्री इंद्रजीत चौरसिया

शशिकला (15) पुत्री मोहन चौरसिया

पूजा (15) पुत्री बलवंत यादव

सुंदरी (15) पुत्री प्रमोद कुशवाहा

ज्योति (15) पुत्री रामबराई चौरसिया

राधिका (16) पुत्री महेश कुशवाहा

पूजा (20) पुत्री रामबराई चौरसिया

मीरा (25) पुत्री सुग्रीव विश्वकर्मा

शकुंतला देवी (35) पत्नी भोला चौरसिया

ममता देवी (35) पत्नी रमेश चौरसिया

दो की शिनाख्त अभी नहीं हो पाई है

मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख की आर्थिक सहायता

कुशीनगर के डीएम राजलिंगम ने कहा कि नेबुआ नौरंगिया में हुए हादसे में मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। रेस्क्यू आपरेशन में जिनकी भी लापरवाही समाने आएगी, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

जिलाधिकारी ने बताया कि कुशीनगर के नौरंगिया टोला गांव में बुधवार रात स्लैप से ढका पुराना कुआं पर हो रहे पूजा-पाठ के दौरान वहां पर बच्चे और महिलाएं बैठे हुए थे।

इस दौरान स्लैप नीचे चला गया और मलबा उनके ऊपर गिर गया। 13 लोगों की मौत हुई है और तीन लोगों की हालत गंभीर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button