पोस्टर गर्ल का आरोप, प्रियंका गांधी के सचिव ने टिकट के लिए मांगा घूस

congress poster girl priyanka maurya

लखनऊ। उप्र विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के 403 सीट में 40 प्रतिशत महिलाओं को टिकट के देने की घोषणा में पार्टी की पोस्टर गर्ल ने ही धांधली का आरोप लगाया है।

कांग्रेस के लड़की हूं, लड़ सकती हूं पोस्टर में सबसे आगे रहने वाली डा. प्रियंका मौर्या ने आरोप लगाया है कि पार्टी में काफी धांधली हो रही है।

लम्बे समय से प्रदेश की सत्ता से बाहर कांग्रेस भी भितरघात का शिकार है। अब इनकी कलह नए बवाल के कारण चर्चा में है। लड़की हूं लड़ सकती हूं कैंपेन की पोस्टर गर्ल प्रियंका मौर्या ने अपनी पार्टी पर संगीन आरोप लगाए हैं।

लखनऊ से सरोजनी नगर से टिकट का दावा कर रहीं लड़की हूं लड़ सकती हूं कैंपेन की पोस्टर गर्ल डा.प्रियंका मौर्या ने पार्टी के सचिव संदीप सिंह पर धांधली का आरोप लगाया है। प्रियंका के अनुसार पार्टी ने उनके साथ बहुत बड़ा धोखा किया है।

महिला कांग्रेस की मध्य जोन की उपाध्यक्ष प्रियंका मौर्या ने कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि मेरे नाम का इस्तेमाल किया गया। मुझे तो यूज किया गया। यह पार्टी तो महिला विरोधी है। प्रियंका मौर्या ने कहा कि यहां पर तो सारे टिकट पहले से तय थे। सिर्फ दिखावे के लिए स्क्रीनिंग की जा रही है।

उन्होंने कहा कि हमसे कहा गया कि टिकट चाहिए तो मैराथन के लिए लड़कियां लाइये। मैराथन में लड़कियों के साथ बहुत बुरा सुलूक किया गया।

कांग्रेस के शक्ति विधान महिला घोषणा पत्र की पोस्टर गर्ल डॉ. प्रियंका मौर्या ने आरोप लगाया है कि धांधली के कारण लखनऊ की सरोजनीनगर विधानसभा सीट से उनका टिकट काटकर रुद्र दमन सिंह को दे दिया गया।

प्रियंका मौर्या का आरोप है कि पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह ने उनका टिकट कटवाया है। कांग्रेस ने गुरुवार को 125 सीटों पर उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की।

इसमें वादे के मुताबिक 40 फीसदी महिलाओं को शामिल किया गया है। जिस सीट से प्रियंका मौर्या चुनाव लडऩे की तैयारी कर चुकी थी वहां से रुद्र दमन सिंह का नाम फाइनल कर दिया गया।

सूची जारी होने के कुछ घंटे बाद ही डॉ. प्रियंका मौर्या ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके कांग्रेस पार्टी में टिकटों की सौदेबाजी का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा है कि प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह ने उनसे टिकट के एवज में रुपये के लिए किसी से फोन करवाया था।

रुपए न देने पर उनकी जगह किसी और के नाम की घोषणा कर दी। आरोप है कि सचिव संदीप सिंह ने उनसे टिकट के एवज में रुपये के लिए किसी से फोन करवाया था।

उनका दावा है कि हर आरोप का उनके पास पुख्ता सबूत है जिसे जल्द ही सार्वजनिक करेंगी। पार्टी प्रवक्ता अशोक सिंह का कहना है कि टिकट न मिलने की वजह से झूठा आरोप लगाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button