इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए करें अदरक का सेवन, लेकिन होनी चाहिए असली

Ginger

कोरोना महामारी के इस भीषण काल में आज हर कोई अपनी इम्यूनिटी मजबूत बनाए रखने की कोशिश में है। इम्यूनिटी को स्ट्रांग बनाए रखने के लिए पौष्टिक भोजन की बात हो या काढ़े की, अदरक का इस्तेमाल दोनों ही चीजों में किया जाता है।

अदरक का नियमित सेवन व्यक्ति को कई तरह के संक्रमण से भी दूर रखने में मदद करता है लेकिन ऐसा तभी होता है जब बाजार से खरीदी जाने वाली अदरक असली हो।

इन टिप्स की मदद से आप पहचान पाएंगे असली और नकली अदरक का फर्क-  

पहाड़ी जड़ व अदरक के बीच का बड़ा अंतर-

अगर आप अदरक को अपनी नाक के पास लाते हैं तो उसकी बहुत तेज व तीखी खुशबू आती है, जो कि असली अदरक की पहचान होती है। वहीं नकली अदरक में खुशबू नहीं आती है। असली अदरक को आप थोड़ा सा चखकर भी देख सकते हैं। इसका स्वाद आपको बता देगा कि यह असली है या नकली।

छिलके से करें पहचान-

अदरक खरीदने से पहले उसके छिलके उतारकर जरूर देखें। असली अदरक में नाखून चुभाने से उसका छिलका तुरंत उतर जाएगा और आपके हाथों में उसकी तीखी खुशबू रह जाएगी। अगर अदरक का छिलका बहुत कठोर है तो उसे मत खरीदें क्योंकि वह अदरक नहीं है।

साफ अदरक से भी रहें दूर

यदि आप मिट्टी लगी हुई अदरक की जगह साफ अदरक खरीदना ज्यादा पसंद करते हैं तो अपनी इस आदत को बदल डालें। दरअसल, आजकल दुकानदार अदरक को साफ करने के लिए एक प्रकार के एसिड का प्रयोग करते हैं।

ऐसी अदरक एसिड से धुली होने के कारण दिखने में अधिक साफ नजर आती है लेकिन यह साफ अदरक आपकी सेहत को बड़ा नुकसान भी पहुंचा सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button