लखीमपुर कांड: मृतक परिवारों को मिलेंगे 45-45 लाख रुपये व सरकार नौकरी

Lakhimpur Violence

लखनऊ/लखीमपुर। लखीमपुर में हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत को लेकर प्रदेश में बढ़ती सियासी सरगर्मी के बीच किसानों और सरकार में समझौता हो गया है। समझौते के मुताबिक सभी मृतक किसानों को 45-45 लाख रुपये मिलेंगे।

साथ ही घायलों को 10-10 लाख रुपये मिलेंगे, मामले की न्यायिक जांच होगी व मृतक परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी मिलेगी।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक बुलाई जिसमे डिप्टी सीएम केशव मौर्य, संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना और आला अधिकारी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने पूरे मामले की रिपोर्ट भी तलब की थी।

दूसरी ओर घटना को लेकर सियासत तेज हो गई है। लखीमपुर खीरी में किसानों से मिलने निकली प्रियंका गांधी को काफी कवायद के बाद आखिरकार सीतापुर के हरगांव में सुबह 4 बजे गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को जिले में जाने से रोक दिया गया।

विरोध में सपा मुखिया समर्थकों के साथ अपने आवास के सामने धरने पर बैठ गए। कुछ देर बाद अखिलेश को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

सपा के समर्थकों और पुलिस के बीच जमकर नोकझोंक और धक्कामुक्की हुई। इस बीच गौतमपल्ली थाने के पास कुछ अराजक तत्वों ने एक पुलिस वाहन को आग के हवाले कर दिया।

उधर, शाहजहांपुर जिले में भाकियू के अलग अलग संगठनों द्वारा विरोध प्रदर्शन के चलते जगह-जगह जाम लगा, ट्रैफिक डायवर्ट किया गया।

एक अन्य घटनाक्रम में पुलिस हिरासत में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी उपवास पर बैठ गईं। उन्होंने कहा कि जब तक किसानों के परिवारों व अन्य किसानों से नहीं मिलूंगी, अन्न ग्रहण नही करूंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button