अखिलेश यादव ने फूंका चुनावी बिगुल, बोले- उद्योगपतियों के लिए काम करते हैं भाजपाई

अखिलेश यादव ने उन्नाव से फूंका चुनावी बिगुल

उन्नाव (उप्र) सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन्नाव जिले से 2022 के चुनाव का एक तरह से श्रीगणेश कर दिया।

पूर्व मंत्री दिवंगत मनोहर लाल की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने आए अखिलेश यादव बस रूपी रथ पर सवार होकर पहुंचे। उन्होंने जिले से एक बार फिर चुनावी शंखनाद किया है।

2012 के चुनाव में भी अखिलेश ने इसी तरह रथ यात्रा निकालकर उन्नाव से ही चुनाव का श्रीगणेश किया था। उस चुनाव में सपा को जनता का पूरा समर्थन मिला था और अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बने थे। 

अखिलेश का यह कदम एक सोची समझी चुनावी रणनीति का हिस्सा बताया जा रहा है। सपा के लिए उन्नाव जिला हमेशा ही लकी रहा है।

अखिलेश ने बुधवार को जनता की नब्ज टटोलने के साथ-साथ रथ से आने पर सफलता मिलने के पूर्व के टोटके को भी आजमाने की कोशिश की है। 

न तो किसानों की आय दोगुनी हुई और न मिला रोजगार

इस अवसर पर अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार में न तो किसानों की आय दोगुनी हुई और न ही नौजवानों को रोजगार मिल पाया।

मुख्यमंत्री योगी पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि बाबा न लैपटॉप चला पाते हैं और न ही बिजली कारखानों की जानकारी रखते हैं।

यही कारण है कि प्रदेश में नए बिजली उत्पादन प्लांट नहीं लग पाए। इस कारण आम जनता को महंगी बिजली का भुगतान करना पड़ रहा है। 

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपाई सत्ता में आने पर उद्योगपतियों के लिए काम करते हैं। गरीबों का पैसा छीनकर उद्योगपतियों को देते हैं और फिर उद्योगपति विदेश भाग जाते हैं।

भाजपाइयों ने मास्क लगवाकर हमारे मुंह और कान बंद करा दिए हैं। भाजपा सरकार को कौन सी बीमारी है जो उसने अपने कान और आंख बंद कर रखे है। उसे गरीबों की आवाज नहीं सुनाई पड़ रही है।

कालेधन पर केंद्र सरकार को घेरते हुए अखिलेश ने कहा कि जिला पंचायत ब्लाक प्रमुख चुनाव में सबसे ज्यादा इसका प्रयोग किया गया। हमारे 19 जिला पंचायत सदस्यों का वोट कैसे लिया गया यह सभी जानते हैं।

उन्होंने दावा किया कि सपा शासनकाल में बाढ़ से कटान रोकने के लिए 133 करोड़ रुपये दिए थे। सरकार बदलते ही भाजपा ने पैसा वापस ले लिया।

यदि प्रदेश में सपा की सरकार बनेगी तो सूबे को आगे बढ़ाने का काम किया जाएगा। भाजपा सरकार विकास कार्यों में कभी सपा की बराबरी नहीं कर सकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button