धर्मांतरण मामला: सुप्रिया से आयशा बनीं लड़की को तलाश रही है एटीएस, जानें वजह

UP ATS

कानपुर। धर्मांतरण मामले में आदित्य गुप्ता उर्फ अब्दुल्ला के बाद अब सुप्रिया उर्फ आयशा एटीएस (एंटी टेरीरिस्ट स्क्वाड) के लिए बड़ी पहेली बन गई है।

सुप्रिया धर्म परिवर्तन कराकर आयशा बनी और अब वह गायब है। एटीएस भी उसकी तलाश कर रही है। इसके लिए सीएसजेएम यूनिवर्सिटी से एटीएस उसकी डिटेल मांगेगी।

हालांकि आयशा का नाम उस सूची में भी शामिल नहीं है जो एटीएस ने इस गिरोह का भंडाफोड़ करने के दौरान मोहम्मद उमर गौतम और काजी जहांगीर से बरामद की थी।

आदित्य गुप्ता उर्फ अब्दुल्ला को ट्रेस करते हुए एटीएस नोएडा और लखनऊ की संयुक्त टीम कानपुर पहुंची थी। इसके बाद टीम ने ज्योति बधिर विद्यालय में भी छानबीन की। इसी दौरान बुधवार को मोहम्मद उमर गौतम का एक वीडियो वायरल हुआ।

जिसमें वह एक सभा में यह जानकारी देता दिखा कि सीएसजेएमयू से एमएससी, बीएड की पढ़ाई कर चुकी सुप्रिया ने भी धर्म परिवर्तन कराया और आयशा बन गई।

उसकी इस जानकारी से एटीएस अलर्ट हुई, जो सूची आरोपितों के पास से खंगाली गई थी उसे देखा गया मगर उसमें सुप्रिया उर्फ आयशा का नाम शामिल नहीं था। 

एटीएस टीम ने सुप्रिया को लेकर ज्योति बधिर विद्यालय प्रशासन और आदित्य गुप्ता उर्फ अब्दुल्ला से भी पूछताछ की मगर उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

सुप्रिया आयशा बनने के बाद कहां गायब है और क्या कर रही है इस सवाल ने एटीएस की चिंता बढ़ा दी है।

आसानी से कर सकेगी माइंड वॉश

एटीएस सूत्रों के मुताबिक, स्पेशल चाइल्ड होने के बाद आदित्य गुप्ता सिर्फ साइन लैंगवेज के बलबूते लोगों को इस्लाम कबूल करने में मदद कर रहा था। जबकि वह अपनी बात ठीक से कह सुन नहीं सकता।

ऐसे में आयशा और भी ज्यादा खतरनाक है। वह पढ़ी लिखी है और लोगों से अपनी बात आसानी से कह सुन सकती है। अब अगर वह लोगों के धर्म परिवर्तन कराने के कार्य में जुटी होगी तो अब तक बहुत लोगों को शिकार बना चुकी होगी।

यूनिवर्सिटी से मांगे जाएंगे रिकॉर्ड

एटीएस सूत्र बताते हैं कि वायरल वीडियो के अनुसार आयशा सीएसजेएमयू की छात्रा रही है। इसके लिए यूनिवर्सिटी से भी रिकॉर्ड मांगे जाएंगे।

सुप्रिया उर्फ आयशा के घर परिवार के बारे में जानकारी जुटाने के बाद एजेंसी उनसे भी पूछताछ करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button