महाराष्ट्र: कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक? एक बाल गृह में 18 बच्‍चे संक्रमित

file photo

मुंबई। महाराष्ट्र के मानखुर्द के एक बाल गृह में रविवार को बच्‍चों का टेस्‍ट किया गया जिसमें 18 बच्‍चे कोरोना संक्रमित पाये गए। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अनुसार, सभी बच्चों को वाशी नाका के कोविड केंद्र में एक आइसोलेशन वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया है।

इस बीच रविवार को भी महाराष्ट्र में कोविड ​​-19 मामलों में वृद्धि जारी रही। रविवार को राज्य में कोरोना संक्रमण के 4,666 नए मामले सामने आए।

जबकि 3,301 मरीजों को इलाज के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई, इस दौरान 131 संक्रमितों की मौत हुई। राज्‍य में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 52,844 हो गई है। महाराष्ट्र में अब तक कुल 1,37,157 की मौत हो चुकी है।

बीएमसी से मिली जानकारी के अनुसार, बुधवार को भी एक बच्‍चा कोविड पाजिटिव पाया गया था जिसे इलाज के लिए शताब्‍दी अस्‍पताल में भर्ती करवाया गया था। उसके अगले दिन दो और बच्‍चे कोरोना संक्रमिता पाये गए थे।

जबकि बीते शुक्रवार एंटीजन और आरटी-पीसीआर टेस्‍ट में 15 बच्‍चे पाजिटिव पाये गए थे। जिसके बाद संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 18 तक पहुंच गई थी। सभी संक्रमित बच्‍चों को इलाज के लिए कोविड अस्‍पताल में स्‍थानांतरित कर दिया गया था।

प्रत्‍येक माह हो रही है जांच

बीएमसी अधिकारी ने बताया कि राज्‍य में तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए अब हर माह इस तरह की जांच की जा रही है। राज्‍य के निजी अनाथालय और बोर्डिंग स्कूलों में अब तक की गई जांच में कुल 26 बच्‍चे कोरोना संक्रमित पाये गए हैं। जिनमें से कुछ बच्‍चों की उम्र 12 वर्ष है।

शनिवार को बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया था कि ठाणे जिसे के उल्‍हास नगर में सरकार द्वारा संचालित रिमांड होम कहे जाने वाले किशोर सुधार गृह के 14 बच्चें कोरोना पाजिटिव पाये गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button