आज उप्र में विकास का आधार परिवारवाद नहीं, बल्कि समानता है: पीएम मोदी

pm modi on expressway

सुल्तानपुर (उप्र)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उप्र के सुल्तानपुर जनपद में 341 किलोमीटर लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया।

उद्घाटन समारोह के बाद पीएम मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए यूपी में विकास पर ध्यान न देने के लिए जहां पूर्व की सरकारों पर निशाना साधा तो वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जमकर तारीफ की।

पीएम मोदी ने आदित्यनाथ को ‘कर्मयोगी’ बताते हुए कहा कि उनकी अगुवाई में राज्य में हर तबके को एक समान मानकर विकास हो रहा है न कि परिवारवाद के आधार पर।

पूर्व की सरकारों पर इशारों में हमला करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पहले के मुख्यमंत्रियों को मेरे साथ खड़े होने में शर्म आती थी क्योंकि उनके पास काम का हिसाब नहीं होता था।

पीएम ने कहा कि तीन-चार साल पहले जहां कुछ नहीं था वहां मैंने सोचा भी नहीं था कि कभी विमान से उतरूंगा। यह एक्सप्रेस वे यूपी की प्रगति, नए यूपी के निर्माण का एक्सप्रेसवे है। यूपी की मजबूत होती अर्थव्यवस्था का एक्सप्रेस वे है।

पीएम ने कहा कि पहले की सरकारों के लिए विकास वहीं तक था, जहां उनका परिवार था लेकिन अब की सरकार के लिए पूर्वांचल भी उतना ही जरूरी है। इस एक्सप्रेसवे से पूर्वांचल के साथ बिहार को भी लाभ होगा।

इस एक्सप्रेसवे की खासियत यह है कि एक्सप्रेसवे लखनऊ से उन शहरों को जोड़ेगा, जिनमें विकास की असीम संभावना है। इस पर आज योगी जी के नेतृत्व में योगी सरकार ने भले ही 22 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च किए हों लेकिन भविष्य में यह एक्स्प्रेस वे हजारों करोड़ रुपये के निवेश को यहां लाने में मदद करेगा।

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद यूपी में ऐसा काम पहली बार हो रहा है। पहली बार शहरी कनेक्टिविटी को इतनी प्राथमिकता दी गई है। आप भी जानते हैं कि जहां अच्छी सड़क पहुंचती है, हाइवे पहुंचते हैं वहां विकास की गति बढ़ जाती है, रोजगार निर्माण और तेज गति से होता है।

पीएम ने कहा कि उप्र के औद्योगिक विकास के लिए बेहतरीन कनेक्टिविटी जरूरी है, यूपी के कोने-कोने को जोड़ा जाना जरूरी है। आज योगी सरकार बिना भेदभादव, बिना परिवारवाद, बिना क्षेत्रवाद, बिना जातिवाद किए सबका साथ-सबका विकास के मंत्र के साथ काम में जुटी है।

पीएम बोले, ‘पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के इर्द-गिर्द बहुत जल्द नए उद्योग लगने शुरू हो जाएंगे। इसके लिए 21 जगहों को चिह्नित करना शुरू कर दिया गया है। यूपी में बन रहे एक्सप्रेसवे नए उद्योगों के लिए आकर्षण का केंद्र बनने वाले हैं।’

पीएम मोदी ने कहा, कौन भूल सकता है कानून- व्यवस्था और मेडिकल की यूपी में क्या स्थिति थी। यहां सड़कों पर राह नहीं होती थी, राहजनी होती थी।

अब राहजनी करने वाले जेल में है। बीते साढ़े चार वर्षों में यूपी में चाहे पूरब हो या पश्चिम, हजारों गांवों को नई सड़कों से जोड़ा गया है। हजारों किलोमीटर नई सड़कें बनाई गई हैं।

अब आप सभी के सहयोग से, उत्तर प्रदेश सरकार की सक्रिय भागीदारी से, यूपी के विकास का सपना अब साकार होता दिख रहा है। आज यूपी में नए मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं, एम्स बन रहे हैं, आधुनिक शिक्षा संस्थान बन रहे हैं।

कुछ हफ्ते पहले ही कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे का लोकार्पण किया और आज मुझे पूर्वांचल एक्सप्रेसवे आपको सौंपने का सौभाग्य मिला। इस एक्सप्रेसवे का लाभ गरीब और मध्यमवर्ग दोनों को होगी।

पीएम मोदी ने कहा कि देश का संपूर्ण विकास करने के लिए देश का संतुलित विकास करना भी जरूरी है। कुछ क्षेत्र आगे चले जाएं, कुछ क्षेत्र दशकों पीछे रह जाएं, यह असमानता किसी भी देश के लिए सही नहीं है।

भारत में भी पूर्वी हिस्सा रहा है, पूर्वोत्तर के राज्यों में विकास की इतनी संभावना के बावजूद इन क्षेत्रों में विकास का वह लाभ नहीं मिला जितना होना चाहिए था।

यूपी में भी जिस तरह की राजनीति हुई, जिस तरह लंबे समय तक सरकारें चलीं, उन्होंने यूपी के सर्वांगीण विकास पर ध्यान ही नहीं दिया। यूपी का यह क्षेत्र तो माफियावाद और यहां के नागरिकों को गरीबों के हवाले कर दिया गया था।

मुझे खुशी है कि आज यही क्षेत्र विकास का नया अध्याय लिख रहा है। मैं यूपी के ऊर्जावान, कर्मयोगी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम को पूर्वांचल एक्सप्रेस की बधाई देता हूं।

PM ने कहा, जितनी जरूरी देश की समृद्धि है उतनी ही जरूरी देश की सुरक्षा भी है। यहां हम देखने वाले हैं कि कैसे अब इमरजेंसी की स्थिति में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे हमारी वायुसेना के लिए एक और ताकत बन गया है।

कुछ ही देर में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर हमारे फाइटर प्लेन अपनी लैंडिंग करेंगे। इन विमानों की गर्जना उन लोगों के लिए भी होगी, जिन्होंने देश में डिफेंस इन्फ्रास्ट्रक्चर को दशकों तक नजरअंदाज किया। मोदी ने कहा कि आज यूपी की डबल इंजन सरकार राज्य के आम जनों को अपना मान कर काम कर रही है।

पीएम ने कहा कि मुझे हैरानी होती थी कि आखिर यूपी को किस बात की सजा दी जा रही है। इसलिए 2014 में जब आप लोगों ने मुझे उप्र की सेवा का मौका दिया तो मैंने यहां के सांसद के नाते, प्रधानसेवक के नाते जो मेरा कर्तव्य बनता था, उनकी बारिकियों में गया।

गरीबों को पक्के घर मिले, महिलाओं को शौच के लिए खुले में न जाना पड़े, घर में बिजली हो, ऐसे कितने ही काम थे जो यहां किए जाने जरूरी थे लेकिन मुझे बहुत पीड़ा है कि तब यूपी में जो सरकार थी, उसने मेरा साथ नहीं दिया।

इतना ही नहीं मेरे साथ में खड़े होने पर भी उन्हें वोट बैंक के नाराज होने का डर लगता था। हवाई अड्डे पर मेरा स्वागत करके वो खो जाते थे, उन्हें इतनी शर्म आती थी क्योंकि काम का हिसाब देने के लिए उनके पास कुछ था ही नहीं।

योगी जी से पहले वाली सरकार ने यूपी के लोगों के साथ नाइंसाफी की, जिस तरह उन्होंने सिर्फ अपने परिवार का हित साधा, यूपी के लोग ऐसा करने वालों को हमेशा के लिए यूपी के विकास के रास्ते से हटा देंगे।

2017 में यूपी ने यह करके दिखाया है, आपने प्रचंड बहुमत देकर योगी जी और मोदी दोनों को साथ मिलकर के अपनी सेवा का आपने मौका दिया और आज यूपी में हो रहे विकास कार्यों को देखकर मैं कह सकता हूं कि इस क्षेत्र का, यूपी का भाग्य बदलना शुरू हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button