उप्र: माइक की आवाज धार्मिक परिसर तक ही सीमित रखने का आदेश

loudspeakers at religious places

लखनऊ। दिल्ली के जहांगीरपुरी में घटना के बाद उप्र में अलर्ट किया गया है। योगी सरकार ने बिना अनुमति के धार्मिक जुलूस या शोभा यात्रा के साथ ही माइक की आवाज को परिसर तक ही रखने का आदेश दिया है।

सीएम योगी ने कहा कि अपनी धार्मिक विचारधारा के अनुसार सभी को अपनी उपासना पद्धति को मानने की स्वतंत्रता है। माइक का प्रयोग किया जा सकता है, लेकिन यह सुनिश्चित हो कि माइक की आवाज धार्मिक परिसर से बाहर नहीं आनी चाहिए। जिससे अन्य लोगों को कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए। यही नहीं योगी के आदेश में कहा गया है कि नए स्थलों पर माइक लगाने की अनुमति न दें।

धर्मगुरुओं से संवाद करें अधिकारी

सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि आने वाले दिनों में कई महत्वपूर्ण धार्मिक पर्व-त्योहार हैं। रमजान का महीना चल रहा है। ईद का त्योहार और अक्षय तृतीया एक ही दिन होना संभावित है।

ऐसे में वर्तमान परिवेश को देखते हुए पुलिस को अतिरिक्त संवेदनशील रहना होगा। थानाध्यक्ष से लेकर एडीजी तक अगले 24 घंटे के भीतर अपने-अपने क्षेत्र के धर्मगुरुओं, समाज के अन्य प्रतिष्ठित जनों के साथ सतत संवाद बनाएं।

अपने क्षेत्र में रहें अधिकारी

सीएम योगी ने कहा कि तहसीलदार हो, एसडीएम हो थानाध्यक्ष हो अथवा सीओ आदि, सभी अपनी तैनाती के क्षेत्र में ही रात्रि विश्राम करें। शासकीय आवास है तो वहां रहें अथवा किराए का आवास लें, लेकिन रात्रि में अपने ही क्षेत्र में रहें। इस व्यवस्था का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए।

संवेदनशील क्षेत्रों में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए। ड्रोन का उपयोग कर स्थिति पर नजर रखें। हर दिन सायंकाल पुलिस बल फुट पेट्रोलिंग जरूर करे। पीआरवी 112 एक्टिव रहे।

पुलिस अधिकारियों की छुट्टियां चार मई तक रद्द

त्योहार और सतर्कता के मद्देनजर  पुलिस अधिकारियों की छुट्टियां चार मई तक के लिए रद्द कर दी गई हैं। सीएम योगी आदित्‍यनाथ के निर्देश पर चीफ सेक्रेटरी ने इस सम्‍बन्‍ध में आदेश जारी कर दिए हैं। जो अधिकारी पहले से अवकाश पर हैं उनसे भी 24 घंटे के अंदर तैनाती स्‍थल पर लौटने को कहा गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button