तमिलनाडु: हाई वोल्टेज तार की चपेट में आने से 11 की मौत; PM ने जताया दु:ख

11 die by electrocution during chariot procession in Tamil Nadu

तंजावुर (तमिलनाडु)। तमिलनाडु के तंजावुर जिले में दर्दनाक हादसा हुआ है। यहां के कालीमेडु में अप्पर मंदिर की रथ यात्रा के दौरान हाई वोल्टेज तार की चपेट में आकर करंट लगने से 11 लोगों की मौत हो गई है। हादसे में घायल कई लोगों को तंजावुर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। पीएम मोदी और राज्य के सीएम ने घटना पर दु:ख जताया है।

मृतकों में कुछ बच्चे भी शामिल

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि ये हादसा उस वक्त हुआ जब बुधवार तड़के रथ यात्रा निकाली जा रही थी। रथ यात्रा के दौरान आसपास के गांवों से कई श्रद्धालु आए हुए थे।

पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि रथ एक मोड़ से गुजर रहा था। इसी दौरान रथ पर खड़े लोग एक हाई वोल्टेज तार की चपेट में आ गए। मृतकों में कुछ बच्चे भी शामिल हैं। पुलिस ने राहत व बचाव कार्य शुरू किया।

करंट की चपेट में आने से रथ पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। राहत और बचाव कार्य जारी है।  पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।

राष्ट्रपति ने भी जताया दुख

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने तंजावुर की घटना पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा, ‘तंजावुर में एक जुलूस में बिजली का करंट लगने से बच्चों सहित कई लोगों की मौत एक त्रासदी है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।’

पीएम मोदी बोले- गहरा दुख हुआ

इस घटना पर पीएम मोदी ने भी गहरा शोक जताया है। पीएम ने ट्वीट कर मृतकों के परिजनों और घायलों के लिए मुआजवे का भी एलान किया है।

पीएम ने कहा, ‘तमिलनाडु के तंजावुर में हुए हादसे से गहरा दुख हुआ। इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि घायल लोग जल्द ठीक हो जाएंगे।’ पीएम ने आगे कहा कि हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे।

5-5 लाख का मुआवजा देगी राज्य सरकार

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का एलान किया है। मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button