जम्मू-कश्मीर: आतंकियों की होगी हवाई निगरानी, ड्रोन का किया परीक्षण

श्रीनगर में सुरक्षा के कड़े प्रबंध

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ ने संयुक्त रूप से उन क्षेत्रों के लिए एक हवाई निगरानी कवर लगाया है जहां अल्पसंख्यक समुदाय के लोग रह रहे हैं।

शहर के केंद्र लाल चौक और आसपास के इलाकों में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आज के जम्मू-कश्मीर दौरे के लिए आतंकी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए चौकसी बरती जा रही है।   

शाह के दौरे से पहले शुक्रवार को श्रीनगर के प्रताप पार्क इलाके में पुलिस और सीआरपीएफ  ने ड्रोन का परीक्षण किया।

सीआरपीएफ के डीआईजी (ऑपरेशंस) मैथ्यू-ए जॉन ने कहा कि सीआरपीएफ ने पुलिस के साथ ड्रोन का परीक्षण किया है, जिसका इस्तेमाल उन क्षेत्रों की निगरानी के लिए किया जाएगा जहां अल्पसंख्यक समुदाय के लोग रह रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों और गैर स्थानीय मजदूरों पर हालिया हमलों के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है। मैथ्यू ने कहा कि लाल चौक और उसके आसपास के इलाकों में भी हवाई निगरानी की जाएगी।

उन्होंने कहा कि लाल चौक में संदिग्धों पर कड़ी नजर रखने के लिए पुलिस और सीआरपीएफ द्वारा संयुक्त रूप से चौबीसों घंटे अतिरिक्त नाके लगाए गए हैं। ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में आतंकी गतिविधियों को देखते हुए सभी सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट पर रखा गया है।

शहर में कई स्थानों पर नाके लगाकर चेकिंग की जा रही है। पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों की संदिग्धों पर पैनी नजर है। आतंकियों की साजिशों से निपटने और उनके खात्मे के लिए कई जगहों पर नए सिक्योरिटी बंकर भी स्थापित किये गए हैं। इन बंकरो में 24 घंटे जवानों की तैनाती रहेगी।

डीजी बीएसएफ पंकज कुमार सिंह एलओसी पर सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करने के लिए तीन दिवसीय दौरे पर हैं। दौरे के दूसरे दिन शनिवार को उन्होंने तंगधार, कुपवाड़ा और बांदीपोरा में अग्रिम क्षेत्रों का दौरा किया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button