लखीमपुर हिंसा: आशीष मिश्रा को मिली जमानत, राकेश टिकैत ने उठाए सवाल

Ashish Mishra got bail in Lakhimpur Kheri violence case

लखनऊ। लखीमपुर हिंसा केस के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच से जमानत मिल गई है।

आशीष तीन अक्‍टूबर 2021 को किसानों को गाड़ी से कुचलकर मार डालने के मामले में मुख्‍य आरोपी हैं। इस घटना में चार किसानों सहित कुल आठ लोगों की मौत हुई थी। आशीष केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे हैं।

जानकारी के अनुसार मामले की सुनवाई पहले ही हो चुकी थी। आज कोर्ट ने इस पर अपना फैसला सुनाया है। बताया जा रहा है कि बेल बांड भरने के बाद आशीष को कल जेल से रिहाई मिल सकती है।

एसआईटी ने बनाया मुख्‍य आरोपी

लखीमपुर हिंसा में आशीष मिश्रा के शामिल होने के आरोपों को गलत बताते हुए कई तर्क दिए गए थे। आशीष मिश्रा और उनके परिवार का कहना था कि घटना के वक्‍त वह वहां थे ही नहीं।

बाद में एसआईटी जांच में आशीष मिश्रा को मुख्‍य आरोपी बताया गया। 5 हजार पन्‍नों की अपनी चार्जशीट में एसआईटी ने बताया था कि आशीष मिश्रा घटनास्‍थल पर मौजूद था।

आशीष मिश्रा के असलहों से हुई थी फायरिंग

एसआईटी की जांच में लखीमपुर खीरी हिंसा में आशीष मिश्रा के असलहों से फायरिंग की पुष्टि हुई थी। बताया गया कि आशीष मिश्रा की रिवाल्‍वर और राइफल से भी फायरिंग हुई थी।

चार्जशीट में आशीष मिश्रा के साथ अंकित दास के लाइसेंसी असलहे से भी फायरिंग की बात कही गई थी। दूसरी तरफ आशीष मिश्रा का दावा है कि पिछले एक साल से उनके असलहों से कोई फायरिंग नहीं की गई लेकिन पुलिस ने बैलेस्टिक रिपोर्ट के आधार पर फायरिंग की पुष्टि की थी।

राकेश टिकैत ने उठाए सवाल

आशीष की जमानत को लेकर किसान नेता राकेश सिंह टिकैत ने सवाल उठाया। उन्‍होंने कहा कि वह इस बात को यूपी में बीजेपी के खिलाफ प्रचारित करेंगे। इस गंभीर मामले में जल्दी जमानत मिलने पर टिकैत ने कहा कि कोई आम आदमी होता तो क्या इतनी जल्दी बेल मिलती?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button