21वीं सदी का भारत कर रहा है आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण: पीएम मोदी

जेवर (नोएडा उप्र)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उप्र के नोएडा के जेवर में एशिया के सबसे बड़े इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्‍यास किया । इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि कहा कि 21वीं सदी का भारत एक से बढ़कर एक आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा है।

उन्होंने कहा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कनेक्टिविटी के जरिए बेहतर मॉडल बनेगा। यह उत्तर भारत का लॉजिस्टिक गेटवे बनेगा। इसके पहले उन्‍होंने जेवर एयरपोर्ट का मॉडल और ऑडियो-विजुअल प्रजेंटेशन देखा।

जेवर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के पहले चरण के विकास में कुल 8914 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने एक बयान में कहा कि जेवर हवाईअड्डा उत्तर भारत के लिए प्रवेश द्वार साबित होग। यहां सितंबर, 2024 तक परिचालन शुरू होने की उम्मीद है। हवाईअड्डे के विकास पर कुल 29,560 करोड़ लागत आने का अनुमान है।

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद वर्षों तक यूपी को ताने सुनने पर मजबूर रखा गया। यह पहला मौका है कि राज्‍य को उसका अधिकार मिल रहा है।

उन्‍होंने कहा कि यूपी में विकास को 2017 की पहले की गैर भाजपा सरकारों ने कैसे नज़रअंदाज किया जेवर एयरपोर्ट भी उसका उदाहरण है। पहले की यूपी सरकार ने बाकायदा चिट्ठी लिखकर इस एयरपोर्ट को बंद करने को कह दिया था। आज डबल इंजन की सरकार की वजह से हम सब इस एयरपोर्ट के शिलान्‍यास के साक्षी बन रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट निर्यात के बहुत बड़े केंद्र को अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों से सीधे जोड़ेगा। यहां के किसान फल, सब्ज़ी, मछली जैसी ज़ल्दी खराब होने वाली उपज को सीधे निर्यात कर पाएंगे।

पीएम ने कहा कि 21वीं सदी का भारत एक से बढ़कर एक आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा है। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कनेक्टिविटी के जरिए बेहतर मॉडल बनेगा। यह उत्तर भारत का लॉजिस्टिक गेटवे बनेगा। यह पूरे क्षेत्र को नेशनल गतिशक्ति मास्टर प्लान का प्रतिबिंब बनाएगा।

पीएम बोले आज जेवर भी अंतरराष्‍ट्रीय मानचित्र पर अंकित हो गया है। वेस्‍ट यूपी और दिल्‍ली-एनसीआर के करोड़ों लोगों को इसका लाभ होगा। 21 वीं सदी का भारत बेहतर से बेहतर इंफरास्‍ट्रक्‍चर का निर्माण कर रहा है।

गरीब अमीर, मजदूर-उद्यमी हर वर्ग को इसका लाभ मिलता है। कनेक्टिविटी की दृष्टि से भी यह इंटरनेशनल एयरपोर्ट बेहतरीन मॉडल बनेगा। यहां आने-जाने के लिए टैक्‍सी से लेकर मेट्रो तक हर तरह की कनेक्टिविटी होगी।

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निर्माण के पहले चरण में कुल 8914 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इस एयरपोर्ट के विकास पर कुल 29,560 करोड़ लागत आने का अनुमान है।

सीएम योगी ने एक ट्वीट में लिखा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आज विश्व के चौथे सबसे बड़े इंटरनेशनल एयरपोर्ट, ’नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट’ का शिलान्यास होगा।

यह एयरपोर्ट उ.प्र. को नई वैश्विक पहचान देगा। उ.प्र., अब देश में सर्वाधिक 05 इंटरनेशनल एयरपोर्ट वाला राज्य होगा। हार्दिक आभार प्रधानमंत्री जी!’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button