वाराणसी: नकली कोरोना वैक्सीन बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, पांच गिरफ्तार

नकली कोरोना वैक्सीन

वाराणसी (उप्र)। एसटीएफ की वाराणसी इकाई ने नकली कोविशील्ड वैक्सीन और फर्जी कोविड टेस्टिंग किट तैयार करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है। एसटीएफ ने गिरोह के पांच सदस्यों को लंका क्षेत्र के रोहित नगर से गिरफ्तार किया है।

आरोपियों के कब्जे से भारी मात्रा में नकली कोविड टेस्टिंग किट, नकली कोविशील्ड वैक्सीन, नकली जाइकोव डी वैक्सीन, पैकिंग मशीन, खाली वायल, स्वाब स्टिक आदि बरामद किया है। जिसकी अनुमानित कीमत चार करोड़ रुपये आंकी गई है। यहां से बनकर तैयार दवाएं और किट विभिन्न राज्यों में सप्लाई होती थी।

एसटीएफ वाराणसी इकाई के डिप्टी एसपी विनोद कुमार के अनुसार नकली कोविड किट और वैक्सीन के बारे में लगातार सूचनाएं फील्ड यूनिट टीम को मिल रही थी। उसके आधार पर लंका थाना के रोहित नगर कॉलोनी स्थित एक फ्लैट में छापा मारा गया।

मौके से सिद्दीगिरी बाग निवासी राकेश थवानी,  पठानी टोला चौक निवासी संदीप शर्मा, मालवीय नगर (नई दिल्ली)  निवासी लक्ष्य जावा, नागपुर रसड़ा (बलिया) निवासी शमशेर और बौलिया लहरतारा निवासी अरुणेश विश्वकर्मा को गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में राकेश थवानी ने बताया कि वह संदीप शर्मा, अरुणेश विश्वकर्मा व शमशेर के साथ मिलकर नकली वैक्सीन व टेस्टिंग किट बनाता था और लक्ष्य जावा को सप्लाई करता था जो अपने नेटवर्क के द्वारा अलग-अलग राज्यों में सप्लाई करता था।

डिप्टी एसपी के अनुसार आरोपियों से पूछताछ कर उनके गिरोह के बारे में जानकारी एकत्र करते हुए विधिक कार्रवाई की जा रही है। बरामद दवाओं की बाजार मूल्य के अनुसार अनुमानित कीमत लगभग चार करोड़ रुपये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button