वाराणसी: मरीज तथा अस्पताल के बीच सेतु बनकर काम करने के लिए बनाई गईं टीमें

KCRC की बैठक में एमएलसी ए.के. शर्मा व अन्य

वाराणसी। काशी कोविड रिस्पोंन्स सेन्टर (KCRC) द्वारा वाराणसी में चल रही कोविड नियंत्रण की कार्यवाही का विवरण देते हुए बताया गया कि एमएलसी ए.के. शर्मा, मंडल कमिश्नर, पुलिस कमिश्नर, जिलाधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की टीम पूरी निष्ठा एवं सतर्कता के साथ कोविड नियंत्रण का कार्य सहयोगी टीमों के साथ कर रही है।

KCRC ने इस बात पर संतोष व्यक्त किया कि विभिन्न अस्पतालों में बहुत से मरीज ठीक होकर घर वापस जा रहे हैं। वाराणसी के 43 अस्पतालों में मरीजों को मदद करने और मरीज तथा अस्पताल के बीच सेतु बनकर काम करने के लिए जिले के उच्च अधिकारिओं की टीमें बनायी गयीं हैं I

उन टीमों को आज KCRC के पदाधिकारिओं ने उचित जानकारी मुहैया कराई और सामान्य व्यक्ति को सहायता पहुंचाने पर जोर दिया । ऑक्सीजन की देशव्यापी एवं राज्य व्यापी स्थिति को ध्यान में रखते हुए विशेष सतर्कता रखने को कहा गया।

ठीक हो रहे मरीजों के बेड नए आने वाले मरीजों के लिए सक्षम रूप से उपयोग हों इसके लिए भी टीमों को और कण्ट्रोल रूम को भी सतर्क किया गया। 

काशी कोविड रिस्पोंन्स सेन्टर (KCRC) ने दोहयाया कि कोविड के शुरूआती लक्षणों के दिखने पर घरेलु उपचार तुरंत करना चाहिए और KCRC के संपर्क नंबर 1077 या अन्य नम्बरों पर संपर्क करें । यह कोविड के लिए प्रथम संपर्क (First Contact) के रूप में काम कर रहा है।

देश के वरिष्ठ डॉक्टरों ने बताया है कि प्राणायाम, जागते हुए पेट के बल सोना (proning position), कमरे को प्राकृतिक हवा के लिए खुला रखना, स्वांस नली साफ़ रखने के लिए भाप लेने जैसे उपाय बहुत ही कारगर हैं।

KCRC ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, उपकेंद्रों एवं सामूहिक स्वास्थ्य केंद्रों के डाक्टरों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को हिदायत दी है कि टीकाकरण एवं टेस्टिंग के कार्य को गंभीरता से लेंI साथ ही सामान्य लक्षण वाले मरीजों का ध्यान रखने में सक्रिय रहें और आगे के उपचार के लिए KCRC से उन्हें जोड़ने में भी भूमिका निभाएं।

टीकाकरण, मास्क, सामाजिक दूरी, हाथ धोने जैसे कार्य सहित स्व-बचाव के प्रति जागरूक एवं अनुशासित रहते हुए एक दूसरे की मदद करने का भी नागरिकों से आह्वान किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button