उप्र पंचायत चुनाव: गोरखपुर में प्रधान पद के प्रत्याशी को मारी गोली, हालत गंभीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

गोरखपुर। गोरखपुर जिले के खजनी थाना क्षेत्र के महुआ डाबर गांव में पूर्व प्रधान व वर्तमान में प्रधान पद के प्रत्याशी राघवेंद्र दुबे उर्फ गिलगिल दुबे को बदमाशों ने बुधवार की रात 11:00 बजे गोली मार दी।

बताया जा रहा है कि सुबह राघवेंद्र के कुछ समर्थक प्रचार में निकल गए थे और इसे लेकर विपक्षी प्रत्याशी से विवाद हुआ था।

पुलिस भी मौके पर पहुंची थी लेकिन मामले को ठीक से भांप नहीं पाई और रात में बदमाशों ने वारदात को अंजाम दे दिया। गंभीर रूप से घायल राघवेंद्र को जिला अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने मेडिकल कालेज रेफर कर दिया है।

उधर ग्रामीणों का आरोप है कि गोली मारने के आरोपी प्रत्याशी को पुलिस ने पकड़ लिया था लेकिन मौके से ही छोड़ दिया है। घटना की सूचना के बाद अफसर मौके पर रवाना हो गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, महुआ डाबर गांव निवासी राघवेंद्र पूर्व प्रधान रहने के साथ ही वर्तमान में सामान्य सीट होने पर चुनाव मैदान में उतरे थे।

विपक्षी से प्रचार के दौरान कई बार नोकझोंक भी हुई थी लेकिन इसे उन्होंने गंभीरता से नहीं लिया था। बृहस्पतिवार की रात वह गांव के दूसरे टोला से अपने घर की ओर आ रहे थे कि गांव के बाहर बदमाशों ने घेर कर उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

गोली लगते ही वह जमीन पर गिरकर तड़पने लगे। उधर गोली चलने की आवाज सुनकर गांव के लोग भी दौड़ पड़े। साथ में मौजूद एक समर्थक ने दूसरे प्रत्याशी पर घटना को अंजाम देने का आरोप लगाते हुए पुलिस को जानकारी दी।

आरोप है कि हल्का दरोगा मौके पर पहुंचे और आरोपी को पकड़ भी लिया था मगर फिर उसे छोड़ दिया।

सुबह हुआ था विवाद, पुलिस भी पहुंची थी गांव

राघवेंद्र के समर्थक और विपक्षी के बीच में बृहस्पतिवार की सुबह भी तनातनी हुई थी और इसकी सूचना पर पुलिस भी पहुंची थी। शांति व्यवस्था कायम होने की दलील देकर पुलिस लौट आई और रात होते ही वहां पर खूनी संघर्ष हो गया। 

गांव में लगाई गई अतिरिक्त फोर्स

खजनी इलाके के महुआ डाबर गांव में घटना होने के बाद एहतियातन फोर्स लगा दी गई है इसके साथ ही चुनाव को देखते हुए अतिरिक्त फोर्स लगाने की तैयारी की जा रही है ताकि वहां पर शांतिपूर्ण चुनाव कराया जा सके। 

48 घंटे के भीतर दूसरी वारदात

जिले में 48 घंटे के भीतर इस तरह की यह दूसरी वारदात है। अभी मंगलवार को ही बेलीपार इलाके में निर्वत मान प्रधान को विपक्षी ने गोली मार दी और इस दौरान 2 समर्थक भी घायल हो गए।

पुलिस वहां पर फोर्स तैनात कर शांतिपूर्ण चुनाव कराने की तैयारी में है कि इसी बीच खजनी इलाके में इस तरह की घटना सामने आ गई है। बड़ी बात यह कि पुलिस की भूमिका सवालों के घेरे में है और इस तरह की वारदातें हो रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button