योगी सरकार ने इस वर्ष के 60 प्रतिशत गन्ना मूल्य का किया भुगतान: सुरेश राणा

लखनऊ। प्रदेश की योगी सरकार कोरोना संक्रमण के इस विषम समय में सूबे के गन्ना किसानों के सुख दुःख का पूरा ध्यान रख रही हैं।

इसी क्रम में प्रदेश सरकार जहां एक तरफ चीनी मिलों को चलवा रही हैं, वही दूसरी तरफ गन्ना किसानों को उनके गन्ना मूल्य का भुगतान भी करवा रही है।

जिसके तहत इस वर्ष अब तक प्रदेश सरकार ने गन्ना किसानों द्वारा चीनी मिलों को दिए गए गन्ना मूल्य का 60 प्रतिशत यानि की करीब 19 हजार करोंड रुपए का भुगतान कर दिया है। प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने यह जानकारी दी है।

उनका यह भी कहना है कि प्रदेश सरकार ने पिछले साल 35 हजार 998 करोड़ रुपए का गन्ना खरीदा गया था, जिसका शतप्रतिशत भुगतान सरकार ने गन्ना किसानों को कर दिया है।

मीडिया से बात करते हुए सूबे के गन्ना मंत्री ने सुरेश राणा कोरोना से बचाव के लिए जनता से सतर्कता बरतने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि सभी लोग मास्क पहने और यदि जरूरी ना हो तो घरों से ना निकले।

कोरोना से बचने के लिए हर स्तर पर सावधानी जरूरी है। प्रदेश सरकार सभी के स्वास्थ्य की चिंता कर रही हैं। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना संक्रमित होने के बाद भी कोरोना से लोगों के बचाव का प्रबंध करने में जुटे हैं।

इसी क्रम में मुख्यमंत्री सूबे के किसानों की चिंता कर रहे हैं। जिसके चलते जहां वह किसानों के गेहूं खरीदने की व्यवस्था को देख रहे हैं, वही दूसरी तरफ वह गन्ना किसानों की भी फ़िक्र कर रहें है। जिसके चलते गन्ना किसानों को उनके  गन्ना मूल्य का भुगतान कराया जा रहा है।

इस वर्ष चीनी मिलों को उपलब्ध कराए गए गन्ने का 60 प्रतिशत यानि करीब 19 हजार करोड़ रुपए का भुगतान अब था किसानों को किया जा चुका है।

यहीं नही पिछले वर्ष खरीदे गए गन्ने का 35 हजार 998 करोड़ रुपए का भुगतान प्रदेश सरकार ने गन्ना किसानों का कर दिया है।

अब पिछले वर्ष के गन्ना मूल्य को कोई बकाया शेष नहीं बचा है, पिछले वर्ष के गन्ने का शतप्रतिशत भुगतान योगी सरकार ने किसानों को कर दिया है।

गन्ना मंत्री के अनुसार बीते चार वर्षों में 45.44 लाख से अधिक गन्ना किसानों को राज्य सरकार ने  133,000 करोड़ करोड़ रुपय का भुगतान किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button